Home / Odisha / कुवैत में भीषण आग में मरे 46 भारतीयों में ओडिशा के दो बेटे

कुवैत में भीषण आग में मरे 46 भारतीयों में ओडिशा के दो बेटे

  • मृतकों में एक कटक जिले का, जबकि दूसरा गंजाम का था निवासी

  • मुख्यमंत्री मोहन चरण माझी ने शोक जताया

भुवनेश्वर। कुवैत में भीषण आग में मारे गए 46 भारतीयों में दो ओडिशा के बेटे भी शामिल हैं। इन दोनों की मौत पर मुख्यमंत्री मोहन चरण माझी ने शुक्रवार को शोक जताया।

मृतकों की पहचान संतोष कुमार गौड़ा और महम्मद जाहूर के रूप में हुई है। बताया जाता है कि जाहूर कटक जिले के तिगिरिया थाना अंतर्गत करडापल्ली गांव का निवासी था, जबकि गौड़ा गंजाम जिले के रणझल्ली गांव का रहने वाला था। वे एक निजी कंपनी में काम करते थे और दक्षिणी कुवैत के मंगफ में एक सात मंजिला अपार्टमेंट में रहते थे, जहां बुधवार सुबह आग लग गई।

इसकी सूचना मिलने पर सीएम ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा कि कुवैत में लगी भीषण आग में कई लोगों की जान चली गई। दो ओड़िया बेटों महम्मद जाहूर और संतोष गौड़ा की मौत की खबर सुनकर दुख हुआ। मैं शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं और अमर आत्मा की मुक्ति के लिए भगवान जगन्नाथ से प्रार्थना करता हूं।

इस बीच, 45 भारतीयों के पार्थिव शरीर को लेकर भारतीय वायुसेना का एक विमान सुबह 10.30 बजे कोच्चि पहुंचा। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि विमान के शाम 4 बजे दिल्ली पहुंचने की उम्मीद है, जहां से दोनों ओड़िया लोगों के शव ओडिशा लाया जायेगा।

भारतीय दूतावास के अनुसार, आवास सुविधा में काम करने वाले 176 भारतीय श्रमिकों में से 45 की मौत हो गई और 33 अस्पताल में भर्ती हैं। कुवैत के विदेश मंत्री अब्दुल्ला अली अल-याह्या ने स्थानीय पत्रकारों को बताया कि घायलों में से एक की रात में ही मौत हो गई, जिससे मरने वाले भारतीयों की संख्या 46 हो गई। आग में तीन फिलिपिनो भी मारे गए, जबकि एक शव की पहचान अभी नहीं हो पाई है।

Share this news

About desk

Check Also

फिर से खुला श्री जगन्नाथ मंदिर का रत्न भंडार

भीतर के रत्नभंडार से आभूषण अस्थायी खटशेज घर में हुआ स्थानांतरण पुरी। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *