Home / Odisha / बारिश व ठंड के कारण ओडिशा में जनजीवन अस्तव्यस्त

बारिश व ठंड के कारण ओडिशा में जनजीवन अस्तव्यस्त

  • बिन मौसम बारिश के कारण धान के नुकसान रोकने के लिए कदम उठाने के निर्देश

भुवनेश्वर – शुक्रवार को राज्य के विभिन्न हिस्सों में बारिश के साथ-साथ ठंड की स्थिति के कारण जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। मौसम विभाग के अनुमान लगाया है कि आगामी 5 जनवरी तक ऐसी स्थिति रहेगी। मौसम विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार, सोनपुर, बोद्ध, खपराखोल व बलांगीर में तीन सेमी बारिश रिकार्ड किया गया है। भुवनेश्वर समेत अन्य कुछ स्थानों पर थोड़ी-थोड़ी कर बारिश हो रही है। इस कारण लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग के अनुसार ट्रफ लाइन बनने के कारण आगामी दो दिनों तक ऐसी स्थिति बनी रहेगी। मौंसम विभाग के अधिकारी ने बताया कि आकाश में बादल रहने के कारण भले ही राज्य में तामपान में कमी नहीं आयी है, लेकिन दो दिनों बाद विभिन्न इलाकों में दो से तीन डिग्री तक तापमान में कमी होगी। उन्होंने कहा कि भद्रक, बालेश्वर, कटक, अनुगूल, खुर्दा, मयूरभंज कंधमाल, रायगड़ा, गंजाम, कलाहांडी व  गजपति जिले में आगामी 24 घंटों में बारिश हो सकती है। गत 24 घंटों में न्यूनतम तापमान सुंदरगढ़ में  10 डिग्री रिकार्ड किया गया है, जबकि सर्वाधिक तापमान 31 डिग्री सेलसियस मालकानगिरि में रिकार्ड किया गया है। विशेष राहत आयुक्त ने राज्य में बिन मौसम बारिश के कारण धान को संभावित नुकसान को ध्यान में रखकर जिला प्रशासन को आवश्यक कदम  उठाने के निर्देश दिया है। विशेष राहत आयुक्त प्रदीप जेना ने सभी जिलाधिकारियों को पत्र लिख कर यह यह निर्देश दिया है। उन्होंने अपने पत्र में कहा है कि जिलाधिकारी किसानों को उनके धान को सुरक्षित स्थान पर रखने के लिए परामर्श दें ताकि नुकसान न हो। साथ ही उन्होंने अपने पत्र में कहा है कि सरकारी भवन व स्कूलों को रात को खुला रखा जाए ताकि जरुरतमंद लोग रात को उनमें रुक सकें। 

 

Share this news

About desk

Check Also

रणेन्द्र प्रताप स्वाईं प्रोटेम अध्यक्ष नियुक्त

राजभवन में राज्यपाल ने दिलाई शपथ भुवनेश्वर। 17वें विधानसभा के सदस्य तथा पूर्व मंत्री रणेन्द्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *