Home / Odisha / हत्या व दुष्कर्म आरोपितों को बचा रही है बीजद सरकार – भाजपा

हत्या व दुष्कर्म आरोपितों को बचा रही है बीजद सरकार – भाजपा

भुवनेश्वर – भारतीय जनता पार्टी ने कहा है कि राज्य सरकार दुष्कर्म व हत्या जैसे मामलों में फंसे अपनी पार्टी के नेताओं व कार्यकर्ताओं को बचाने के लिए इसे आत्महत्या का रुप दे रही है। जगतसिंहपुर जिले के कुजंग प्रखंड के चुनवालारी गांव की शुभलक्ष्मी ओझा के साथ दुष्कर्म व हत्या के मामला इसका ताजा उदाहरण है। यदि सरकार नहीं चेती व दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की तो भाजपा आगामी दिनों में जोरदार आंदोलन करेगी। भाजपा के वरिष्ठ नेता विभु प्रसाद तराई व पार्टी के प्रवक्ता उमाकांत पटनायक ने एक संवाददाता सम्मेलन में यह बात कही। श्री तराई व पटनायक ने कहा कि गत 10 दिसंबर को 19 साल की युवती के साथ दुष्कर्म व बाद में हत्या की गई थी। उसका शव रेलवे ट्रैक से बरामद किया गया था। मृतक के पिता ने हत्या के संबंध में थाने में लिखित में शिकायत की, लेकिन पुलिस ने उनकी प्राथमिकी को दर्ज नहीं किया। इसके बाद पीड़िता के पिता ने एसपी को इस बारे में अवगत कराने के बाद 24 को हत्या का मामला दर्ज किया, लेकिन इस हत्या को एक माह पूरे होने के बाद भी मुख्य आरित शुभांशु बिश्वाल व अन्य के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई। वे खुले आम घूम रहे हैं। पीड़िता के पिता ने पुलिस महानिदेशक व  राज्य मानवाधिकार कमिशन से मिल कर भी अवगत कराया है, लेकिन किसी प्रकार की कार्रवाई पुलिस नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि आरोपित बीजद के सक्रिय कार्यकर्ता होने के कारण पुलिस इस मामले को आत्महत्या बता कर मामले को रफादफा करने की योजना बना रही है। स्थानीय विधायक संबित राउतराय भी आरोपितों को बचाने में लगे हैं। उन्होंने कहा कि यदि सही जांच कर आरोपितों को गिरफ्तार नहीं किया जाता तब आगामी 18 को भाजपा कार्यकर्ता पारादीप के पास रेलवे के आबाजाही को रोकेंगें। यदि आवश्यक हुआ आंदोलन को और तेज किया जाएगा। इस पत्रकार सम्मेलन में भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश महामंत्री सुरथ बिश्वाल भी उपस्थित थे। 

Share this news

About desk

Check Also

राज्यपाल रघुवर दास ने दिया प्रासंगिक पाठ्यक्रमों के प्रचलन पर जोर RAGHUVAR DAS

राज्यपाल रघुवर दास ने दिया प्रासंगिक पाठ्यक्रमों के प्रचलन पर जोर

निजी व मान्यताप्राप्त विश्वविद्यालयों के कुलपतियों के सम्मेलन को किया संबोधित भुवनेश्वर। ओडिशा के राज्यपाल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *