Home / Odisha / महिला स्वयं सहायिका समूह को मिली जल कर वसूलने की जिम्मेदारी

महिला स्वयं सहायिका समूह को मिली जल कर वसूलने की जिम्मेदारी

  • जलसाथी कार्यक्रम का मुख्यमंत्री ने किया शुभारंभ

भुवनेश्वर । अब महिला स्वयं सहायिका समूह जल कर वसूलेंगे। इसके लिए तैयार किये गये जलसाथी कार्यक्रम को मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने बुधवार को  स्थानीय रेलवे आडिटोरियम में शुभारंभ किया। भुवनेश्वर शहर के 8 वार्डों में इस कार्यक्रम को शुरु किया गया है। इसके लिए वाटको व महिला स्वयं सहायिका समूह महासंघ के साथ एक समझौते पर भी हस्ताक्षर किया गया। पहले चरण में जहां 8वार्डों में इसकी शुरुआत क गई, वहीं आगामी दिनों में संपूर्ण भुवनेश्वर समेत राज्य के सभी 114 शहरी निकायों में यह कार्य स्वयं सहायिका समूहों को दिया जाएगा।

जल साथी कार्यक्रम में स्वयं सहायिका समूह के सदस्य घरों में जाकर पानी की गुणवत्ता की जांच करेंगे तथा जल के शुल्क वसूले सकेंगे। पूरे राज्य में पांच हजार जल साथी इस कार्यक्रम में शामिल होंगे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने जलसाथियों को जल की गुणवत्ता की जांच करने के लिए परीक्षण कीट तथा पैसे लेने के लिए पीओएस मशीन भी वितरित किया। जलसाथी अब इस कीट को लेकर घरघर जाएंगे तथा पानी की गुणवत्ता जांच करने के साथ-साथ शुल्क भी लोगों से ले सकेंगे।

लोग भी अपने घर बैठे शुल्क प्रदान कर सकेंगे। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने इस अवसर पर कहा कि परिवारों में माताएं स्वास्थ्य के प्रति संवेदनशील होती हैं। उत्तम स्वास्थ्य का पेयजल के साथ संबंध है। इस कारण पेयजल प्रबंधन का काम महिलाओं को दिया जाना प्रशंसनीय है। इससे महिला स्वयं सहायता समूहों के जरिये महिला सशक्तिकरण भी हो सकेगा। उन्होंने आशा व्यक्त की कि महिला स्वयं सहायता समूह से जुड़ी महिलाएं इस कार्य को कर लोगों में विश्वास हासिल कर सकेंगी तथा लोगों व सरकार के बीच सेतु का कार्य करेंगे। इस कार्यक्रम में महिला व शिशु कल्याण मंत्री श्रीमती टुकुनी साहू, विज्ञान व तकनीकी मंत्री अशोक पंडा व  अन्य उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री पांच दिवसीय दिल्ली दौरे पर

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक बुधवार को पांच दिवसीय दिल्ली दौरे पर निकल गये हैं। मुख्यमंत्री कार्यालय़ से जुड़े सूत्रों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अपने इस दौरे के दौरान श्री पटनायक महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर  आयोजित होने वाले समारोह में  शामिल होंगे। इसके अलावा वह राज्य से जुडे मुद्दों को लेकर कुछ केन्द्रीय मंत्रियों से भी मुलाकात करेंगे। आगामी 22 को वह वापस भुवनेश्वर लौट आयेंगे।

Share this news

About desk

Check Also

रणेन्द्र प्रताप स्वाईं प्रोटेम अध्यक्ष नियुक्त

राजभवन में राज्यपाल ने दिलाई शपथ भुवनेश्वर। 17वें विधानसभा के सदस्य तथा पूर्व मंत्री रणेन्द्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *