Home / Odisha / मुख्यमंत्री ने किया पांच परियोजना का शुभारंभ

मुख्यमंत्री ने किया पांच परियोजना का शुभारंभ

22 परियोजनाओं का किया शिलान्यास

भुवनेश्वर – मुख्य़मंत्री नवीन पटनायक ने शनिवार को स्थानीय खारबेल भवन  में आयोजित विशेष कार्यक्रम में कुल 9  हजार करोड़ रुपये के खर्च से तैयार पांच परियोजनाओं का शुभारंभ किया, जबकि 22 परियोजनाओं का शिलान्यास किया। वीडियो कानफ्रेन्सिंग के जरिये उन्होंने इन परियोजनाओं का शिलान्यास व शुभारंभ किया ।उन्होंने इस अवसर पर कहा कि  इन परियोजनाओं से 12 हजार 242 रोजगार का सृजन होगा । इन परियोजनाओं से राज्य का आर्थिक विकास में गति आयेगी ।

मुख्यमंत्री  कहा कि आगामी 2020 में मेक इन ओडिशा कनक्लेव का आयोजन होगा । आगामी 2020 में 30 नवंबर से 4 दिसंबर तक पांच दिनों तक यह कार्यक्रम चलेगा । इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए उन्होंने ग्लोबल बिजनेस कम्युनिटी को आमंत्रित किया है ।

मुख्यमंत्री ने दावा किया कि पूंजी निवेश के क्षेत्र में ओडिशा देश के पहले तीन स्थानों में है । 2019 अप्रैस से सितंबर तक जितनी भी पूंजी निवेश हुआ है उसमें से 18 प्रतिशत निवेश ओडिशा में हुआ है ।

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने इस अवसर पर ओडिशा फिल्म विकास निगम का वेबसाईट, मेक इन ओडिशा-2020 काउंटडाउन का शुभारंभ किया ।

जिन पांच परियोजनाओं का मुख्यमंत्री ने शुभारंभ किया उनमें ओसीएल लिमिटेड द्वारा सुंदरगढ़ जिले के राजगांगपुर में सीमेंट कारखाने का विस्तार शामिल है । इसमें 365 लोगों को रोजगार मिलेगा । इसी तरह कंपनी द्वारा कटक जिले के आठगढ़ में 452.55 करोड़ रुपये में एक परियोजना शुरु किया गया है । इसमें 243 लोगों को रोजगार मिलेगा । इस परियोजना के जरिये 3 एमटीपीए सीमेंट का उत्पादन हो सकेगा । इसी तरह प्रो मिनरल्स द्वारा केन्दुझर जिले के बसंतपुर में 238.97 करोड़ रुपये के व्यय से लौह अयस्क पलीटाइजेशन प्लांट की स्थापना की गई है । इसमें 192 लोगों को रोजगार प्राप्त हो सकेगा । ओएमजे इवी द्वारा 52.41 करोड़ रुपये के व्यय से जाजपुर के बडचणा में इलेक्ट्री वाहन उत्पादन के लिए उद्योग की स्थापना की गई है । इसी तरह सूरज प्रोडक्ट्स द्वारा 50.25 करोड़ रुपये के व्यय से सुंदरगढ़ जिले के राजगांगपुर में स्थित इस्पात संयंत्र का विस्तार का भी मुख्यमंत्री ने शुभारंभ किया । इसमें 196 लोगों को रोजगार प्राप्त हो सकेगा । 

Share this news

About desk

Check Also

फिर से खुला श्री जगन्नाथ मंदिर का रत्न भंडार

भीतर के रत्नभंडार से आभूषण अस्थायी खटशेज घर में हुआ स्थानांतरण पुरी। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *