Home / Odisha / बालेश्वर में स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में

बालेश्वर में स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में

  • लोगों के सहयोग से लौट रही है शांति

  • कर्फ्यू में ढील का समय भी बढ़ा

  • मोबाइल छोड़कर इंटरनेट की अन्य सेवाएं भी बहाल

बालेश्वर। बकरीद के दिन भड़की हिंसा के बाद लगे कर्फ्यू से बालेश्वर में स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है एवं शहर में शांति फिर से लौटने लगी है। कर्फ्यू में ढील के दौरान कहीं से भी किसी प्रकार की अप्रिय घटना की खबर नहीं है। प्रभावित इलाके में पुलिस की निगरानी जारी है। निगरानी में ड्रोन का प्रयोग भी किया जा रहा है।

आज पत्रकारों को संबोधित करते हुए बालेश्वर जिलाधिकारी आशीष ठाकरे एवं पुलिस अधीक्षक सागरिका नाथ ने कहा कि लोगों के सहयोग से शांति लौट रही है। शहर के शिल्पांचल थाना क्षेत्र में कर्फ्यू को पूरी तरह से उठा दिया गया है। हालांकि शहर के सहदेवखुंटा थाना क्षेत्र में सुबह 5 बजे से रात को 9 बजे तक कर्फ्यू में ढील दी जाएगी। इसी तरह शहर में टाउन थाना अधीन क्षेत्रों में सुबह 5 बजे से दोपहर 2 बजे तक कर्फ्यू में ढील दी जाएगी।

एहतियात के तौर पर अभी कुछ दिनों तक के लिए शहर में मोबाइल फोन में इंटरनेट की सेवा उपलब्ध नहीं होगी। हालांकि लीज लाइन, लैंडलाइन एवं ब्रॉडबैंड में इंटरनेट सेवाएं आज से चालू कर दी गईं हैं।

अधिकारियों ने बताया कि अभी तक हिंसा के मामलों में बालेश्वर पुलिस के द्वारा कुल 19 मामले दर्ज किए गए हैं। शनिवार तक 75 लोगों को शहर में हिंसा फैलाने के मामले में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। इसके साथ ही शनिवार से शहर के संवेदनशील इलाकों में ड्रोन कैमरा की मदद से पुलिस निगरानी रख रही है और पुलिस की एक टीम सोशल मीडिया में फैल रहे अफवाहों पर नजर बनाए रखी है।

शहर से बाहर जाकर कर रहे हैं काम

इधर, बालेश्वर शहर में मोबाइल पर इंटरनेट की सेवा उपलब्ध नहीं होने के कारण लोग शहर के बाहर निकलकर कुरुड़ा क्षेत्र में जाकर अपना काम कर रहे हैं। लोगों को रास्ते के किनारे बैठकर काम करते हुए देखा जा रहा है। इस क्षेत्र में पिछले तीन दिनों से बाहरी लोगों की भीड़ देखने को मिल रही।

Share this news

About desk

Check Also

फिर से खुला श्री जगन्नाथ मंदिर का रत्न भंडार

भीतर के रत्नभंडार से आभूषण अस्थायी खटशेज घर में हुआ स्थानांतरण पुरी। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *