Home / Odisha / दूसरे चरण  के मतदान से पहले हिंसा तेज, भाजपा-बीजद में मारपाटी

दूसरे चरण  के मतदान से पहले हिंसा तेज, भाजपा-बीजद में मारपाटी

कटक/बरगढ़। ओडिशा में दूसरे चरण के मतदान से पहले मंगलवार को पूरे ओडिशा में अलग-अलग जगहों पर बीजद और भाजपा समर्थकों के बीच झड़प की खबरें आईं।

मंगलवार रात कटक जिले के खुंटुनी पुलिस स्टेशन के सामने भाजपा की एक रैली के दौरान भाजपा और बीजद कार्यकर्ताओं के बीच कथित तौर पर झड़प हो गई। आरोप है कि एडिशनल एसपी की मौजूदगी में मारपीट के दौरान कथित तौर पर पथराव किया गया।

हालांकि इस घटना में किसी बड़ी चोट की सूचना नहीं है, लेकिन इस दौरान पांच से अधिक बाइकें क्षतिग्रस्त हो गईं।

खबरों के अनुसार, भाजपा समर्थक आठगढ़ विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत अनंतपुर इलाके में एक रैली निकाल रहे थे। इसी दौरान कथित तौर पर सत्तारूढ़ दल के समर्थकों ने उन पर हमला किया।

इसके जवाब में  भाजपा के समर्थकों ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए खुंटुनी पुलिस स्टेशन का घेराव किया। हालांकि, पुलिस से आश्वासन मिलने के बाद उन्होंने अपना विरोध वापस ले लिया।

इस दौरान बीजद कार्यकर्ताओं ने विपक्षी दल के कार्यकर्ताओं द्वारा पिटाई किये जाने का आरोप लगाते हुए थाने का भी घेराव किया। इसके बाद कटक के एडिशनल एसपी मौके पर पहुंचे और प्रदर्शनकारियों को शांत कराया।

हालांकि स्थिति पर काबू पा लिया गया, लेकिन दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं ने एडिशनल एसपी की मौजूदगी में एक बार फिर एक-दूसरे पर पथराव कर हिंसा शुरू कर दी। खुंटुनी पुलिस ने घटना की जांच शुरू कर दी है।

कटक के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक देवदत्त बराल ने मीडिया को दिये बयान में कहा है कि पुलिस के समय पर हस्तक्षेप से स्थिति को नियंत्रण में लाने में मदद मिली। हम स्थिति का जायजा ले रहे हैं और घटना की जांच शुरू कर दी है।

इसी तरह की एक अन्य घटना में, मंगलवार को बरगढ़ जिले के अंबाभोना ब्लॉक के कुंबो गांव में चुनाव प्रचार के दौरान हिंसा की सूचना मिली है।

खबरों के अनुसार, भाजपा कार्यकर्ताओं ने अंबाभोना पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई कि बीजद समर्थकों ने उनके प्रचार के दौरान उनके वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया और एक ड्राइवर की पिटाई की। इसके बाद भाजपा के कार्यकर्ताओं ने भटली विधानसभा क्षेत्र से भाजपा उम्मीदवार इरासिस आचार्य की उपस्थिति में पुलिस स्टेशन का घेराव किया।

जैसा कि शिकायत में बताया गया है कि बीजद भटली विधायक सुशांत सिंह के भाई हिंसा के दौरान मौके पर मौजूद थे। भाजपा ने 24 घंटे के अंदर आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। हालांकि, इस संबंध में पुलिस या बीजद की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिल सकी है।

Share this news

About desk

Check Also

संबित ने पहले जगन्नाथ को बताया मोदी का भक्त, फिर क्षमा मांगी, प्रायश्चित को तीन दिन उपवास  

महाप्रभु के चरणों में भाजपा प्रवक्ता ने मांगी क्षमा भुवनेश्वर। पुरी लोकसभा सीट से भाजपा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *