Home / Odisha / 100 किलोमीटर की रफ्तार से नेल्लोर व मछलीपट्टनम के बीच लैंडफॉल करेगा चक्रवात
100 किलोमीटर की रफ्तार से नेल्लोर व मछलीपट्टनम के बीच लैंडफॉल करेगा चक्रवात
100 किलोमीटर की रफ्तार से नेल्लोर व मछलीपट्टनम के बीच लैंडफॉल करेगा चक्रवात

100 किलोमीटर की रफ्तार से नेल्लोर व मछलीपट्टनम के बीच लैंडफॉल करेगा चक्रवात

  •  अगले 24 घंटे में चक्रवात का रूप लेगा डिप डिप्रेशन

  • ओडिशा में 4-5 दिसंबर को भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना

भुवनेश्वर। अगले 24 घंटे के दौरान डिप डिप्रेशन चक्रवात का रूप धारण करेगा तथा लैंडफॉल के दौरान इसकी गति 100 किलोमीटर प्रति घंटे की हो सकती है। हालांकि ओडिशा में यह लैंडफॉल नहीं करेगा, लेकिन 4 और 5 दिसंबर को भारी बारिश हो सकती है।

इससे पहले दक्षिण-पश्चिम बंगाल खाड़ी पर बना दबाव आज शनिवार सुबह डिप डिप्रेशन में तब्दील हो गया। यह जानकारी आज यहां भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने देते हुए बताया कि यह सिस्टम पिछले 6 घंटों के दौरान 18 किमी प्रति घंटे की गति के साथ पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ा है। एक डिप डिप्रेशन में बदल गया है और आज सुबह 5.30 बजे उसी क्षेत्र में पुडुचेरी से लगभग 500 किमी पूर्व-दक्षिण पूर्व में, चेन्नई से 510 किमी पूर्व-दक्षिणपूर्व, नेल्लोर से 630 किमी दक्षिणपूर्व, बापटला से 710 किमी दक्षिण-दक्षिणपूर्व और मछलीपट्टनम से 710 किमी दक्षिण-दक्षिण पूर्व में केंद्रित था।

मौसम विभाग ने बताया कि इसके पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है तथा अगले 24 घंटों के दौरान बंगाल की दक्षिण-पश्चिम खाड़ी के ऊपर एक चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा। इसके बाद यह उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ेगा और 4 दिसंबर की दोपहर तक दक्षिण आंध्र प्रदेश और निकटवर्ती उत्तरी तमिलनाडु तटों से होते हुए पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी तक पहुंच जाएगा। इसके बाद यह लगभग उत्तर की ओर लगभग समानांतर और दक्षिण आंध्र प्रदेश तट के करीब बढ़ेगा और 5 दिसंबर की पूर्वाह्न के दौरान चक्रवाती तूफान के रूप में नेल्लोर और मछलीपट्टनम के बीच दक्षिण आंध्र प्रदेश तट को पार करेगा, जिसकी अधिकतम गति 80-90 किमी प्रति घंटे से लेकर 100 किमी प्रति घंटे तक होगी। यदि सिस्टम चक्रवात में तब्दील हो जाता है, तो इसे मिचौंग कहा जाएगा, जो म्यांमार द्वारा सुझाया गया नाम है।

इसके प्रभाव से ओडिशा में 4-5 दिसंबर को भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग राज्य के लिए पीली और नारंगी चेतावनी जारी की है। तूफानी हवा की चेतावनी भी जारी की गई है। 5 दिसंबर को गजपति, गंजाम, पुरी और जगतसिंहपुर के तटीय जिलों में और उसके आसपास 35-45 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवा चलने की संभावना है। इसके साथ ही मालकानगिरि, कोरापुट और रायगड़ा जिले में 30-40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवा चलने की भी संभावना है।

पांच जिलों के लिए नारंगी चेतावनी

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने 5 दिसंबर को राज्य के पांच जिलों के लिए नारंगी चेतावनी जारी की है। ये जिले हैं- मालकानगिरि, कोरापुट, रायगड़ा, गजपति और गंजाम। आईएमडी ने इन जिलों के कई स्थानों पर भारी बारिश की भविष्यवाणी की है। इन जिलों में 115-201 मिमी बारिश हो सकती है। इसी तरह नवरंगपुर, कलाहांडी और कंधमाल के लिए पीली चेतावनी जारी की गई है।

Share this news

About desk

Check Also

नया ओडिशा, नवीन ओडिशा कार्यक्रम के जुट बैग खरीद में 2 सौ करोड रुपये का घोटाला –कांग्रेस

भुवनेश्वर, ओडिशा प्रदेश कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि राज्य के नवीन पटनायक सरकार द्वारा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement

Advertisement