Home / National / BIHAR – डूबने से 22 की मौत, 6 लापता

BIHAR – डूबने से 22 की मौत, 6 लापता

पटना – कार्तिक पूर्णिमा के दिन नदी में डूबने से 22 लोगों की मौत हो गई, जबकि छह लोग लापता बताये जा रहे हैं। छपरा, नवादा, सीतामढ़ी और नालंदा में तीन-तीन लोगों की मौत होने की खबर है, जबकि पटना के बाढ़, पटना सिटी, मुजफ्फरपुर और मोतिहारी में दो-दो लोगों की मौत हुई है। इसके साथ ही औरंगाबाद और अरवल में एक-एक व्यक्ति की मौत की खबर है। इन हादसों में विभिन्न जगहों से छह लोग लापता हैं।
नालंदा से मिली खबर के अनुसार स्नान करने गईं तीन बच्चियों की मौत हो गई है। यह हादसा जिले के गिरियक थाना क्षेत्र के घोसरावा गांव के करीब से गुजरने वाली सकरी नदी में हुई है। ग्रामीणों के सहयोग से एसडीआरएफ की टीम ने तीनों के शव बरामद कर लिये हैंं। मरने वालों में दो सगी बहनें हैं। मृतक बच्चियों की पहचान घोसरवा गांव के ही अजय सिंह की पुत्री सोनम और अंशु कुमारी तथा दीपू सिंह की पुत्री प्रीति कुमारी के रूप में की गई है।
नवादा में सेखोदेवरा स्थित सूर्य मंदिर तालाब में कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर स्नान करने गई दो युवतियों की डूबने से मौत हो गई। इन युवतियों को बचाने के प्रयास में सोखोदेवरा जेपीएन स्पोर्टिंग क्लब के अध्यक्ष अविनाश कुमार उर्फ राकेश सिंह की डूबकर मौत हो गई है। मोतिहारी में स्नान करने के दौरान डूबने से दो लोगों की मौत हो गई है। पहली घटना चकिया में हुई। यहां पर स्नान करने गए एक बच्चे की डूबने से मौत हो गई है। जबकि दूसरी घटना में मोतिहारी के पकड़ी दयाल के डूमड़ीघाट पर एक 18 वर्षीय युवक की मौत डूबने से हो गई है।
सीतामढ़ी से मिली खबर के अनुसार कार्तिक पूर्णिमा पर स्नान करने के दौरान बैरगनिया के बागमती नदी में चार लोग डूब गये, जिनमें तीन का शव बरामद कर लिया गया है। एक व्यक्ति को बचा लिया गया है। यहां डूबने वालों की पहचान सीतामढ़ी के बैरगनिया के रहने वाले राहूल झा, पंकज मिश्रा, सुधांशु मिश्रा और प्रकाश झा नहाने के लिए बागमती नदी के पार चले गए थे। हालांकि पहले से वहां भीड़ थी, लेकिन गहरे पानी मे जाने की वजह से चारों तेज धार में बह गए। इसमें तीन की मौत हो गई लेकिन एक को बचा लिया गया।
मुजफ्फरपुर के अहियापुर थाना क्षेत्र स्थित बड़ी गंडक नदी के संगम घाट पर स्नान करने के दौरान दो बच्चे डूब गए। घटना की सूचना मिलने के बाद स्थानीय प्रशासन ने एसडीआरएफ व स्थानीय गोताखोरों को दोनों की खोज में लगाया है। लेकिन घंटों बाद भी दोनों नहीं मिलेेे। इससे नाराज लोगों ने सड़क जाम कर दिया। बताया गया है कि अहियापुर थाना क्षेत्र के संगमघाट पर कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर गंगा स्नान के लिए लोग गए थे। इसी दौरान दो बच्चे गहरे पानी में चले जाने के कारण डूब गए। डूबे बच्चों में एक लड़का और एक लड़की शामिल है। बच्चों की पहचान दादर गाव निवासी 10 वर्षीय राहुल कुमार और 12 वर्षीय संजना कुमारी के रूप में हुई है। मौके पर कांटी सीओ और बीडीओ मौजूदगी में बच्चों की खोज की कोशिश की गई।
Share this news

About desk

Check Also

ज्ञान के बल पर अगले 25 वर्षों में विश्व का नेतृत्व करेगा भारत : ओम बिरला

नई दिल्ली। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने शनिवार को कहा कि देश ‘आत्मनिर्भर भारत’ की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement

Advertisement