Wednesday , March 3 2021
Breaking News
Home / Odisha / मारवाड़ी सोसाइटी भुवनेश्वर ने फराया तिरंगा, एकता और सौहार्य बनाये रखने की अपील

मारवाड़ी सोसाइटी भुवनेश्वर ने फराया तिरंगा, एकता और सौहार्य बनाये रखने की अपील

 

अशोक पांडेय, भुवनेश्वर

मारवाड़ी सोसाइटी भुवनेश्वर ने हर्षोल्लास के साथ गणतंत्र दिवस भुवनेश्वर 26 जनवरी को सुबह मनाया. कोरोना महामारी को लेकर सरकार की ओर से जारी नियमों का पालन करते हुए स्थानीय मारवाड़ भवन में मारवाड़ी सोसाइटी भुवनेश्वर की ओर से एक सामान्य आयोजन के बीच बतौर  उपाध्यक्ष वरिष्ठ समाजसेवी व उद्योगपति प्रकाश बेताला ने ध्वजारोहण किया और राष्ट्रीय तिरंगे को सलामी दी. इस अवसर पर मारवाड़ी सोसाइटी भुवनेश्वर के महासचिव जीतेंद्र मोहन गुप्ता, किशन खंडेलवाल, उमेश खंडेलवाल और सुरेंद्र अग्रवाल भी उपस्थित थे. इस दौरान प्रकाश बेताला ने एकता और सौहार्य बनाये रखने की अपील की.

साथ ही उन्होंने लोगों से कोरोना काल में सतर्क रहने की भी अपील की. उन्होंने कहा कि कोरोना का टीका आ गया है, लेकिन हमें अब भी सावधान रहने की जरूरत है. कोरोना महामारी के संकट के दौरान देश की एकजुटता की उन्होंने प्रशंसा की और कहा कि हमें अपनी एकजुटता ऐसे बनाये रखनी होगी और आपस के सुख-दुख बांटने होंगे, जैसा कि हमने कोरोना को लेकर जारी लाकडाउन और शटडाउन के दौरान अपने आस-पास के लोगों और जरूरतमंदों के साथ मिलकर खड़े रहे. उन्होंने कहा कि असल में हमारी एकता ही हमारे गणतंत्र का आधार है.

प्रकाश बेताला ने इस दौरान भाजपा नेता और समाजसेवी उमेश खंडेलवाल की जमकर ताऱीफ की. उमेश खंडेलवाल ने लाकडाउन और शटडाउन के दौरान 1.20 लाख से अधिक जरूरतमंद लोगों को भोजन उपलब्ध कराया था. बेताला ने कहा कि आज उमेश जैसे युवाओं को देश की जरूरत है. इसलिए युवाओं को अधिक से अधिक न सिर्फ राजनीति में आने की जरूरत है, अपितु समाजसेवा की बागडोर भी संभालने की जरूरत है.

About desk

Check Also

श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निधि समर्पण समिति ने राज्य की जनता के प्रति जताया आभार

भुवनेश्वर. श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निधि समर्पण समिति, ओडिशा ने राज्य की जनता को निधि समर्पण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

RSS
Follow by Email
YouTube
YouTube
Pinterest
LinkedIn
Share
Instagram
Telegram