Wednesday , May 18 2022
Breaking News
Home / Odisha / रिश्वतखोरी के आरोप तीन पुलिस कर्मचारी निलंबित, जुजुमरा थाना प्रभारी का तबादला

रिश्वतखोरी के आरोप तीन पुलिस कर्मचारी निलंबित, जुजुमरा थाना प्रभारी का तबादला

संबलपुर। जिला पुलिस अधीक्षक डा. कनवर विशाल सिंह ने रिश्वतखोरी के एक मामले में सख्त रवैया अख्तियार करते हुए जुजुमरा थाना के तीन पुलिस कर्मचारियों को निलंबित कर दिया है। जबकि जुजुमुरा थाना प्रभारी लोकनाथ साहू का तबादला पुलिस मुख्यालय कर दिया गया है। निलंबित होनेवाले कर्मचारियों का नाम हवलदार बिरंची बेहेरा, ड्राईवर जगन्नाथ जेना एवं कांस्टेबल प्रशांत प्रधान शामिल हैं। मिली जानकारी के अनुसार पिछले बुधवार को जुजुमुरा थाना अंतर्गत बागदफा गांव निवासी दुतियाचांद निकटस्थ एक जंगल से बीजा लकड़ी काटकर अपने घर ले जा रहा था। इस दौरान जुजुमुरा पुलिस की एक टीम ने उसे पकड़ा। इस दौरान दुतियाचांद ने वहीं पर मामले को रफादफा करने की पेशकश कर दिया। किन्तु उपस्थित पुलिस कर्मचारियों ने उससे चालीस हजार रूपए की मांग कर दिया। दुतियाचांद ने काफी अनुरोध किया, इसके बावजूद उस पुलिस कर्मचारियों ने उसकी एक नहीं सुनी। अंतत: बीस हजार रूपए में मामला तय हुआ। जेल जाने से बचने के लिए दुतियाचांद ने अपनी जमीन बेचा और बीस हजार रूपया लेकर उन पुलिस कर्मचारियों के पास पहुंचा। किन्तु दुतिया का चालाक भाई रिश्वतखोरी के इस कारनामें को चुपके से अपने मोबाईल फोन में कैमरे में कैद कर दिया। वीडियो वायरल होते ही पुलिस के आला अधिकारियों को मामले की खबर लगी और उन्होंने मामले की जांच का आदेश जारी किया। जांच में जब वीडियो की कहानी सच साबित हुई तो उन पुलिस कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया है। रिश्वतखोरी का यह मामला फिलहाल पूरे इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है।

About desk

Check Also

अध्यापकों के कौशल विकास को शुरू होगा मालवीय मिशन – धर्मेन्द्र प्रधान

 इंस्टीट्यूशनल मेकानिजम रिपोर्ट की केन्द्रीय शिक्षा मंत्री ने की समीक्षा भुवनेश्वर. देश के उच्च शैक्षणिक …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

RSS
Follow by Email
Telegram