Tuesday , January 18 2022
Breaking News
Home / Odisha / CMS ELECTION- एक भी पंजीकृत मतदाता मतदान करने से नहीं होगा वंचित

CMS ELECTION- एक भी पंजीकृत मतदाता मतदान करने से नहीं होगा वंचित

  • ई-मेल करने में हुई थी गलती, अपडेट सूची प्रत्याशियों को भेजी गई

  • चुनाव समिति ने 3 पर्यवेक्षक नियुक्त किए

हेमंत कुमार तिवारी, कटक

कटक मारवाड़ी समाज की चुनाव समिति ने आज स्पष्ट किया कि कोई भी पंजीकृत मतदाता मतदान करने से वंचित नहीं रहेगा। साथ ही चुनाव समिति ने यह स्पष्ट किया है कि जो मतदाता सूची ई-मेल से प्रत्याशियों को भेजी गई थी, वह भूलवश पिछले सत्र की थी, लेकिन जो हार्ड कॉपी दी गई थी वह सही है। भूल की जानकारी मिलने के बाद सत्र 2019-21 के लिए सॉफ्ट कॉपी फिर से ईमेल से भेज दी गई है। साथ ही 23 दिसंबर को सभी प्रत्याशियों एवं उनके प्रतिनिधियों के समक्ष घोषणा की गई कि किसी भी सदस्य को उसके मताधिकार के प्रयोग से वंचित नहीं किया जाएगा। इसकी सूचना मीडिया के जरिए पहले भी दी जा चुकी है। आज एक हिंदी दैनिक में छपी खबर को चुनाव समिति में संपूर्ण निराधार, असत्य एवं एकतरफा करार दिया है और कहा है कि यह अनुचित और भ्रामक है। जहां तक चुनावी प्रक्रिया का सवाल है यह अभी आरंभिक स्थिति में है और पूरा का पूरा चुनाव बाकी है। चुनाव संबंधी अधिसूचना सत्र 2019-21 के जारी से लेकर दिनांक 26 दिसंबर गुरुवार तक सभी प्रत्याशियों के उनके पोलिंग एजेंट और नॉमिनी के फॉर्म चुनाव समिति को प्रदान करने तक की संपूर्ण प्रक्रिया पारदर्शी और आपसी समन्वय तथा संवाद द्वारा संपन्न हुई। भविष्य में भी निर्वाचन तक निष्पक्षता एवं पारदर्शिता बनी रहेगी। जब जब जो शिकायतें मिली उसका समन्वय निवारण एवं जवाब तुरंत दिया गया। समिति ने कहा कि यह सूचित किया जाता है कि चुनाव समिति के 3 पर्यवेक्षक नियुक्त किए गए हैं जो कभी भी किसी भी समय कहीं पर भी किसी भी प्रत्याशी के प्रचार व सभा में पहुंचकर प्रवाहित हो रही आचार संहिता पर नजर रखेगी और अपनी रिपोर्ट समिति को सौंपेगी। यह एक पारंपरिक नियम है जो पिछले सत्र के चुनाव में कायम था। चुनाव समिति ने कहा है कि कुछ एक महिलाओं ने मुख्य चुनाव अधिकारी एवं चुनाव समिति के विरुद्ध सत्र 2015-17, 2017-19 एवं 2019-2021 मे लगाए गए अभियोग एवं सभी शिकायतों पर मुख्य चुनाव अधिकारी चुपचाप बैठे रहे। चुनाव समिति समाज को यह सूचना देना चाहती है कि किसी भी समय लिखित या मौखिक अभियोग इन महिलाओं द्वारा नहीं दिया गया। ऐसा मिथ्या दोषारोपण, कुंठित, गुटबाजी एवं संकीर्ण मानसिकता का परिचायक है। समाज में सद्भावना, भाईचारा बनाए रखने के लिए प्रबुद्ध, गणमान्य वरिष्ठ समाजसेवियों से अनुरोध करके समाज के नाम एक विनम्रता से एक संदेश “करवद्ध विनम्र निवेदन” मीडिया और सोशल मीडिया से प्रेषित की गई। आज चुनाव समिति ने सभी मीडिया कर्मियों से अनुरोध किया है कि चुनाव से संबंधित जो भी समाचार जो चुनाव समिति के बाहर से प्राप्त हुआ है, उसके विषय में मुख्य चुनाव अधिकारी से स्पष्टीकरण करने के बाद ही छापें एवं समाचार व समाचार पत्र की निष्पक्षता एवं गरिमा को बनाए रखें। उल्लेखनीय है कि चुनाव समिति चुनाव प्रक्रिया के दौरान कटक मारवाड़ी समाज की सर्वोच्च क्षमता प्राप्त इकाई है। चुनाव समिति ने कहा है कि “सबको समान, सबको सम्मान, बिना किसी दबाव के, बिना किसी भेदभाव के” अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने में सशक्त है और आगामी 5 जनवरी 2020 को प्रमाणिक तौर पर इसको समाज के समक्ष मजबूती से उदाहरण मिसाल प्रस्तुत करेगी। चुनाव समिति ने सब से आग्रह किया है कि मुद्दे सर्वोपरि हो, ना कि व्यक्तिगत आरोप-प्रत्यारोप।

About desk

Check Also

ओडिशा मानवाधिकार आयोग का कार्यालय नौ दिनों तक बंद रहेगा

भुवनेश्वर. भुवनेश्वर स्थित ओडिशा मानवाधिकार आयोग का कार्यालय नौ दिनों के लिए बंद रहेगा. 17 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email
Telegram