Monday , December 6 2021
Breaking News
Home / Odisha / एमसीएल में सतर्कता जागरूकता सप्ताह का शुभारंभ

एमसीएल में सतर्कता जागरूकता सप्ताह का शुभारंभ

सम्बलपुर. 27 अक्टूबर से 2 नवम्बर, 2020 तक एमसीएल मुख्यामलय सहित सभी क्षेत्रों में सतर्कता जागरूता सप्ता ह का आयोजन किया जा रहा है. इस वर्ष के लिए सतर्कता जागरूकता सप्ताह का विषय “सतर्क भारत, समृद्ध भारत” है. इस सतर्कता जागरूकता सप्ताह का शुभारंभ एमसीएल के अध्याक्ष सह प्रबंध निदेशक बीएन शुक्लाे ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया. इस अवसर पर एमसीएल के सभी कार्यकारी निदेशक एवं मुख्यर सतर्कता अधिकारी बीपी शर्मा उपस्थित थे. एमसीएल के अध्य क्ष सह प्रबंध निदेशक भोला नाथ शुक्लाक की अनुपस्थिति में माननीय ओपी सिंह, निदेशक तकनीकी (संचालन) इस समारोह में मुख्यी अतिथि के रूप में उपस्थित थे, जबकि एमसीएल के निदेशक (वित्तस) केआर वासुदेवन, निदेशक (कार्मिक) केशव राव, निदेशक तकनीकी (योजना एवं परियोजना) बबन सिंह विशिष्टव अतिथि के रूप में उपस्थित रहे. मुख्यक अतिथि ओपी सिंह, निदेशक तकनीकी (संचालन) ने सर्वप्रथम सतर्कता झंडा व मशाल प्रज्व् लन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया और अखंडता की प्रतिज्ञा एमसीएल के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को दिलाई.

इस अवसर पर आम जनता के बीच सतर्कता जागरूकता पैदा करने के लिए एमसीएल के सभी कार्यकारी निदेशक द्वारा एक सतर्कता रथ को भी रवाना किया गया. ओडिशा के सुंदरगढ़, झारसुगुड़ा और अनुगूल जिलों में फैले कंपनी के सभी क्षेत्रों व इकाइयों में इसी तरह के कार्यक्रम आयोजन किए जायेंगे. आम लोगों के जीवन में भ्रष्टाचार जैसे बीमारी को खत्म करने के लिए केंद्रीय सतर्कता आयोग के उद्देश्य को प्राप्त करने के लिए एमसीएल ने बड़े ही उत्साह और उद्दीपना के साथ विभिन्न कार्यक्रम संचालन कर रहा है. इस सतर्कता जागरूकता सप्ताह के दौरान गतिविधियों के माध्यम से पारदर्शिता, भ्रष्टाचार मुक्त भारत बनाने के लिए सतर्कता जागरूकता करने का प्रयास किया जा रहा है व सार्वजनिक इंटरफ़ेस वाले स्थानों पर बैनर और पोस्टर प्रदर्शित किया गया है. “सतर्क भारत, समृद्ध भारत” पर प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिताओं, वाद-विवाद, निबंध लेखन और स्लोरगान लेखन एमसीएल मुख्याषलय और सभी क्षेत्रों में आयोजन किया जा रहा है, ताकि भ्रष्टाचार के दुष्प्रभाव और इसकी रोकथाम करने के साथ साथ देश की समृद्धि व विकास में योगदान दे सकेंगे.

About desk

Check Also

बालेश्वर में पके धान को नुसकान पहुंचना तय

 120 ग्रामीणों को सुरक्षित स्थानों पर लाया गया  30 गर्भवती महिलाओं को स्थानीय अस्पतालों में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email
Telegram