Sunday , July 3 2022
Breaking News
Home / Odisha / CMS ELECTION- “बार-बार मोदी सरकार” पर उठे सवाल

CMS ELECTION- “बार-बार मोदी सरकार” पर उठे सवाल

  • कहा-बार-बार का मतलब किसको करता है इंगित

  • सरकार कह कर क्या कटक मारवाड़ी समाज का राजनीतिक दल बनाने का हो रहा प्रयास

  • मामा ने की संबंधों को तोड़ने वाली टिप्पणियों के प्रयोग से परहेज करने की अपील

  • कहा-कुछ लोगों की सोच पूरी मारवाड़ी पट्टी का प्रतिनिधित्व नहीं कर सकती

हेमंत कुमार तिवारी कटक,

कटक मारवाड़ी समाज के अध्यक्ष पद के चुनाव को लेकर प्रत्याशी किशन कुमार मोदी के समर्थन में चल रहे स्लोगन पर सवाल उठने लगे हैं। मोदी को टीम विजय से अलग हुआ दल रमन बगड़िया के नेतृत्व में समर्थन कर रहा है। स्लोगन में लिखा गया है कि

“Bahut ho gaya Baar Baar. ABKI BAAR MARWARI PATTI KI MODI (KISHAN)SARKAR : MODIKS”

इस स्लोगन के वायरल होने के बाद कटक मारवाड़ी समाज के एक सदस्य ने सवाल खड़ा कर दिया है। उनका कहना है कि “बार-बार” का शब्द का प्रयोग करके किसके तरफ इंगित किया जा रहा है, क्योंकि किशन कुमार मोदी को समर्थन करने वाले दल के सदस्य ही निवर्तमान और तत्कालीन अध्यक्ष विजय खंडेलवाल के नेतृत्व में पिछले 4 साल के कार्यकाल के दौरान सामाजिक कार्यों को अंजाम दे रहे थे, क्या यह अर्थ लगाया जा सकता है कि “बार-बार” का शब्द प्रयोग करके वह यह कहना चाहते हैं कि अब उनको पुनः मौका ना दिया जाए।

इतना ही नहीं, कटक मारवाड़ी समाज के इस सदस्य ने यह भी सवाल उठाया है कि क्या “सरकार” शब्द का प्रयोग करके कटक मारवाड़ी समाज को राजनीतिक दल बनाने का प्रयास किया जा रहा है? अगर कोई ऐसा प्रयास कर रहा है तो वह निंदनीय है। कटक मारवाड़ी समाज की स्थापना समाजसेवा के लिए और अपने बंधुओं के साथ-साथ आसपास के क्षेत्रों में सौहार्द की भावना स्थापित करने के लिए की गई है। उन्होंने कहा कि स्लोगन में एक और शब्द का प्रयोग किया गया है “अबकी बार मारवाड़ी पट्टी की मोदी सरकार”। उनका कहना था कि मारवाड़ी पट्टी का प्रयोग करके क्या कटक के समाज के बीच दूषित वातावरण तैयार करने का प्रयास किया जा रहा है? कटक मारवाड़ी समाज का दायरा सिर्फ मारवाड़ी पट्टी तक ही सीमित नहीं है। अपना नाम गुप्त रखने की शर्त पर उन्होंने कहा कि कटक मारवाड़ी समाज का दायरा कटक और इसके विस्तारित क्षेत्र सीडीए तक है। इतना ही नहीं, कटक के आसपास के क्षेत्रों के लोग भी इस समाज से जुड़े हुए हैं। इस समाज में न सिर्फ मारवाड़ी समाज के लोग हैं, अपितु जैन समुदाय, माहेश्वरी समुदाय और ब्राह्मण समुदाय के लोग भी इसका हिस्सा हैं। इसलिए इस समाज को मारवाड़ी पट्टी तक सिमट कर कोई नहीं रख सकता। यह अधिकार मारवाड़ी पट्टी के लोग भी नहीं देंगे।

इस संदर्भ में अध्यक्ष पद के प्रबल दावेदारी के दौड़ में शामिल नथमल चनानी उर्फ मामा जी ने भी ऐसे शब्दों को प्रयोग करने से परहेज करने की अपील की है। उनका मानना है कि यह क्षणिक प्रक्रिया है और लोकतांत्रिक प्रक्रिया है, जिससे हम समाजसेवा के लिए आगे आने के लिए प्रयासरत हैं। इस दौरान किसी भी दल के किसी भी सदस्य को ऐसी टिप्पणी करने से परहेज करना चाहिए, जिससे समाज में टूट पड़े और सामाजिक संबंधों पर असर पड़े, क्योंकि चुनाव जीतने के बाद हम सब एक ही होंगे। उन्होंने कहा कि कटक मारवाड़ी समाज का दायरा बहुत बड़ा है। इसलिए पट्टी का प्रयोग कर कुछ लोग अपनी संकीर्ण सोच का परिचय दे रहे हैं। यह उचित नहीं होगा, क्योंकि जहां तक मुझे पता है यह सोच पूरे मारवाड़ी पट्टी की नहीं हो सकती। यह सोच कुछ लोगों की है। उन्होंने कहा कि मैं जानता हूं मारवाड़ी पट्टी में बहुत संभ्रांत, विद्वान और संपन्न सोच वाले व्यक्ति भी बहुतों की संख्या में हैं। इसलिए यह सोच पूरी मारवाड़ी पट्टी का प्रतिनिधित्व नहीं कर सकती है। हमारा आग्रह होगा कि किसी भी दल के सदस्य इस तरह की टिप्पणी से परहेज करें।

About desk

Check Also

ओडिशा में कोरोना के सक्रिय मामले 1000 के पार, 231 नये पाजिटिव मिले

भुवनेश्वर. राज्यभर में पिछले 24 घंटों के दौरान कोविद-19 के कुल 231 नये मामले सामने …

5 comments

  1. इस तरह के स्लोगन यह दर्शाता है कि यह लोग मारवाड़ी समाज को छोटे छोटे क्षेत्र में बांटना चाहते हैं ना की समाज को एकजुट करके पूरे समाज का विकस चाहते हैं।

  2. Madhusudan sharma

    Atyant sochaniya visay..Samaj mein ish tarah ki guth baji band honi chahiye aur sahi kaha hai inhone AAB AUR BAAR BAAR NAHI..Inpe bharosa nahi karna chahiye..4 saalon se yehi log thae inko aur nahi…jo ek raat mein badal sakte hain.. Jo ek Rubber Stamp Neta chahte hain.. Aise logon
    Yahan hum sarkar nahi bana rahe..ye rajnaitik sangathan nahi.. Cuttack bhai chara ka sahar sab milkar chalte hai..TULSIPUR WALE , CHAULIAGANJ WALE aise bolkar samaj ko tukdo mein bibhachit na karein. Cuttack Marwari Samaj ko kewal Marwari Patti mein na simit karein..

  3. Sandeep Kedia

    This is just Height of Hipocracy.. Although i am not much associated with the Society since was staying outside for quite a long time. But now looking at all these i feel i am in a better Position. Msgs flooding here and there.. What is this word SARKAR USED..ARE YOU PEOPLE PLAYING WITH US..What you have done in last 4 Years ..The Person you all are using what is the contribution of him towards the society?
    Was he an active member of CUTTACK MARWARI SAMAJ ..WITH HOW MANY ORGANIZATION HE IS ASSOCIATED WITH.
    PLEASE PLEASE PLEASE STOP DIRTY POLITICS..
    MAY BE YOU WIN I DAMM CARE BUT THIS IS NOT THE END OF GAME AND SURELY PEOPLE WILL RAISE VOICE..

  4. It seems Mr Kishan Modi Ji will be dummy President just like Mr Manmohan Singh but who will be the Sonia Gandhi with remote control?

  5. It seems Mr Kishan Modi Ji will be dummy President like Mr Manmohan Singh but who will be the Sonia Gandhi with remote control?

Leave a Reply

Your email address will not be published.

RSS
Follow by Email
Telegram