Sunday , July 3 2022
Breaking News
Home / National / छोटे व्यापारियों को 10 लाख रुपये तक का ऋण तीन दिनों में देने का लक्ष्य

छोटे व्यापारियों को 10 लाख रुपये तक का ऋण तीन दिनों में देने का लक्ष्य

  • इंस्पेक्टर राज हटाने में व्यापारी वर्ग को नेक नियति के साथ डटकर खड़ा होना होगा – गडकरी

  • कहा- वैश्विक महामारी ने व्यवसाय का तरीका एवं माहौल बदला

  • व्यापारी वर्ग को व्यापार में बदलाव के लिए रहना चाहिए तैयार

  • 21वीं सदी का सबसे बड़ा कैपिटल है विश्वसनीयता

हेमन्त कुमार तिवारी, कटक

छोटे व्यापारियों को सरकार ने 10 लाख रुपये तक का ऋण तीन दिनों में देने का लक्ष्य तय कर रखा है. सब्जी, ऑटो, किराना के साथ अन्य छोटे एवँ कुटीर उद्योगों को ऋण देने के नियमों को सरलीकरण किया गया है. उद्योग एवं व्यापार को कोविद-19 के लॉकडाउन का सामना करना पड़ा है, जिससे व्यापार एवँ उत्पादन की दरों की गति में कमी आयी है, लेकिन लॉकडाउन कोई स्थायी उपाय नहीं है. हमें इन्ही परिस्थितियों में अपने को आगे बढ़ाना होगा. कोरोना की वैक्सीन जल्दी ही आयेगी.यह बातें राष्ट्रीय राजमार्ग एवँ सुक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्री नितिन गडकरी ने कहीं.

भारतीय राष्ट्रीय उद्योग व्यापार मंडल की ओर से आज 39वें व्यापारी दिवस पर आयोजित कार्यमक्रम को केंद्र सरकार के राष्ट्रीय राजमार्ग एवँ सुक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्री नितिन गडकरी एवं वाणिज्य एवं रेलवे मंत्री पीयूष गोयल ने संबोधित किया. वर्चुअल मीटिंग में देश के सभी राज्यों के व्यापारी नेता एवँ प्रतिनिधि इसमें सम्मिलित हुए. इस दौरान प्रथम सत्र को सम्बोधित करते हुए गडकरी ने कहा कि कि  वर्तमान समय में देश कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के संकट से गुजर रहा है. ऐसे समय में व्यवसाय का तरीका एवं माहौल बदल गया है. व्यापारी वर्ग को इसको समझते हुए व्यापार में बदलाव के लिए तैयार रहना चाहिए.

व्यापारी समाज एक-दूसरे का हाथ एवं साथ पकड़ कर चले

वर्तमान समय में सरकार का रेवन्यू भी कम हुआ है. व्यापारी समाज एक-दूसरे का हाथ एवं साथ पकड़ कर चले, तो इस संकटकाल से निकलने में हम कामयाब होंगें. हमारी सरकार मौजूदा हालात को गम्भीरता के साथ देख रही है. व्यापारियों को कैसे सहूलियत एवं समर्थन दिया जा सकता है, इन सम्भावनाओं पर विचार किया जा रहा है. इंस्पेक्टर राज से कैसे छुटकारा दिलाया जा सकता है, इस बिंदू पर  सरकार विचार कर रही है, परन्तु इसमें व्यापारी वर्ग को भी नेक नियति के साथ डटकर खड़ा होना होगा. 21वीं सदी का सबसे बड़ा कैपिटल है विश्वसनीयता. रोजी-रोटी के लिए गांव से शहर का पलायन ठीक नहीं है. अपने स्थानीय संसाधनों का बेहतर उपयोग करके इस को रोका जा सकता है. सरकार ने प्रदूषण को कम करने के लिए इलेक्ट्रिक ट्रक एवं कार की योजना बनाई है. ईँधन और समय की बचत के लिए फ़ास्टटैग का इस्तेमाल किया जाना चाहिए.

त्वरित प्रतिक्रिया

छोटे व्यापारियों को 10 लाख रुपये तक का ऋण तीन दिनों में देने का लक्ष्य स्वागत योग्य कदम है. इंस्पेक्टर राज हटाने में व्यापारी वर्ग को नेक नियति के साथ डटकर खड़ा होने की केंद्रीय मंत्री गडकरी की अपील पर सभी उद्योगपतियों और व्यापारियों को पूरा करना होगा. इससे न सिर्फ देश की अर्थव्यवस्था को नई दिशा मिलेगी, बल्कि आत्म संतुष्टि भी लोगों को मिलेगी. अब समय आ गया है, जब न सिर्फ चीन के उत्पाद, अपितु किसी भी विदेशी वस्तुओं की बंद करनी होगी. स्वदेशी उत्पादन बढ़ाना होगा.

विजय खंडेलवाल, युवा उद्योगपति, भुवनेश्वर, ओडिशा

जीएसटी की तरह सभी प्रकार के लाइसेंसों को भी आजीवन किया जाये- श्याम बिहारी मिश्र

मीटिंग के दूसरे सत्र में वाणिज्य मंत्री के सम्बोधन से पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष श्याम बिहारी मिश्र ने मांग रखी किसरकार को जीएसटी की तरह सभी प्रकार के लाइसेंसों को भी आजीवन करना चाहिए. स्थानीय उत्पादों के साथ स्थानीय बाजारों को भी बढ़ावा दिया जाए. पटरी एवँ फुटपाथ के दुकानदारों को सरकारी योजना के तहत उचित मूल्य पर दुकानें आवंटित किया जायें. इंस्पेक्टर राज एवँ लालफीताशाही पर अंकुश लगाने की आवश्यकता है. टैक्स की छूट सीमा 10 लाख तक किया जाये. खाद्य सुरक्षा के नियमों में सरलीकरण की पुनर्समीक्षा किया जाए और सरल नियम बनाये जाएं.

सुझावों पर मंत्रालय गम्भीरता से विचार करेगा- पीयूष गोयल

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने अपने सम्बोधन में कहा कि आपके दिए सुझावों पर मंत्रालय गम्भीरता से विचार करेगा. व्यापारी दिवस एक सम्मान का दिन है. व्यापार को सरल एवं सुगम बनाना हमारी प्राथमिकता है और हम उसपर काम भी कर रहे हैं. सरकार लाइसेंसों को आजीवन करने की सम्भावनाओं पर विचार कर रही है.  परन्तु इसके लिए व्यापारी वर्ग से भी सहयोग की अपेक्षा की जाती है.

व्यापारी वर्ग एवँ सरकार दोनों पक्ष मिलकर आ रही दिक्कतों पर मिल बैठकर बात करें और उसका ठोस उपाय भी निकालेंगे. सरकारी तंत्र एवं व्यापारी समाज दोनों जगहों से कोई भी गलत तरीके से काम करे तो उसका पुरजोर विरोध किया जाये, एक गलत व्यक्ति पूरे व्यवस्था को गलत साबित कर देता है. प्रधानमंत्री मोदी के आत्मनिर्भर भारत का संदेश सही मायनों में 130 करोड़ लोंगो के साथ ही सम्भव है. देश की 90 प्रतिशत आबादी स्वदेशी के पक्ष में है. सरकार भी इस दिशा में कदम बढ़ा रही है, मोबाइल, टेलीविजन, टायर आदि उत्पादों को भारत सरकार बढ़ावा दे रही है. 10 लाख करोड़ रुपये मूल्य का विदेशी समान आयात होता है इसको रोककर हम आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ सकते हैं. हम 130 करोड़ लोगों के साथ आज विश्व बाजार में एक प्रमुख उपभोक्ता वाला देश है, यहाँ पर व्यापार की अपार संभावनाएं हैं.

त्वरित प्रतिक्रिया

ओडिशा इकाई केंद्र सरकार की अपील के साथ खड़ा है. हम विदेशी सामनों का पूरी तरह से बहिष्कार करते हैं और स्वदेशीकरण को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है. व्यापारी वर्ग इंस्पेक्टर राज को खत्म करने में पूरी तरह से सरकार के साथ-साथ नेक नियत से खड़ा है.

प्रह्लाद खंडेलवाल, उद्योगपति, कटक, ओडिशा

चाइना के उत्पादों का व्यापार मंडल पूर्ण रूप से कर रहा है विरोध

देश के व्यापारी समाज एवँ संगठनों को स्वदेशी निर्मित उत्पादों को समर्थन देना चाहिए. धन्यवाद ज्ञापित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष श्याम बिहारी मिश्र ने कहा कि विदेशी सामानों खास कर चाइना के उत्पादों का व्यापार मंडल पूर्ण रूप से विरोध करता है. हमारा संगठन ऐसे किसी भी व्यापार का कतई समर्थन नहीं करेगा. केंद्रीय मंत्री के सामने ही सभी व्यापारी नेताओ ने खड़े होकर इसकीं शपथ भी ली. कार्यक्रम का संचालन प्रदेश के वरिष्ठ उपाध्यक्ष मुकुंद मिश्र ने सुचारू रूप से  किया. आज के कार्यक्रम में उपस्थित व्यापारी नेताओं ने भी अपने-अपने विचार रखे. प्रमुख वक्ताओं में विजय प्रकाश जैन, वरिष्ठ महामंत्री दिल्ली, बाबूलाल गुप्ता, वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजस्थान, प्रह्लाद खंडेलवाल वरिष्ठ उपाध्यक्ष ओडिशा, तारक नाथ त्रिवेदी वरिष्ठ उपाध्यक्ष कोलकाता, गोपाल मोर तेलंगाना, गोपाल अग्रवाल मध्य प्रदेश, हेमंत गुप्ता दिल्ली, मोहन राम गुरनानी मुंबई महाराष्ट्र, राजेंद्र गुप्ता बरेली उत्तर प्रदेश, बालकिशन अग्रवाल दिल्ली,  शिवकुमार हरियाणा, राजू अप्सरा,  बी राजपुरोहित बेंगलुरु उपस्थि थे. यह जानकारी यहां प्रह्लाद खंडेलवाल, अध्यक्ष, प्रफुल्ल छटोई, सचिव तथा प्रशांत पाणिग्रही, मुख्य सलाहकार ने दी.

 

About desk

Check Also

कोलकाता पुलिस ने नूपुर शर्मा के खिलाफ जारी किया लुकआउट नोटिस

कोलकाता, पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ कथित आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर कोलकाता पुलिस ने भाजपा की …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

RSS
Follow by Email
Telegram