Tuesday , January 31 2023
Breaking News
Home / Odisha / राजधानी भुवनेश्वर में कोरोना बजा रहा खतरे की घंटा, 20 दिनों में 899 पाजिटिव मामले

राजधानी भुवनेश्वर में कोरोना बजा रहा खतरे की घंटा, 20 दिनों में 899 पाजिटिव मामले

  • 20 दिनों में 178 स्थानीय लोग संक्रमित हुए, सामाजिक संक्रमण मानने से इनकार

  • बीएमसी ने झोंकी अपनी ताकत, घर-घर सेरो सर्वेक्षण जारी

हेमन्त कुमार तिवारी, भुवनेश्वर

गंजाम जिला के बाद राजधानी शहर स्मार्ट सिटी भुवनेश्वर में लगातार बढ़ रहे कोविद-19 के मामलों ने राज्य सरकार की रातों की नींद हराम कर दी है. लाकडाउन, सेनिटाइजेशन और अन्य रोकथाम उपायों के बावजूद कोरोना वायरस के प्रसार पर ब्रेक लगाने में अब तक सफलता नहीं मिली है. इस महीने के 20 दिनों में 899 मामले सामने आए हैं. राजधानी शहर में जून में 332 मामले मिले थे.

अब जुलाई महीने के 20 दिनों में कुल कुल मामले बढ़कर 1231 हो चुके हैं. इसमें लगभग चार गुना वृद्धि देखी गई है. पिछले 20 दिनों में शहर में 899 पाजिटिव मामले मिले हैं. लगातार बढ़ती संख्या के साथ-साथ स्थानीय संक्रमण के मामलों में भी वृद्धि देखने को मिल रही है. इसलिए सामुदायिक प्रसारण की संभावनाओं को खारिज नहीं किया जा सकता है. इस चेतावनी विशेषज्ञ भी दे रहे हैं. यदि पिछले 15 से 20 जुलाई तक के कोरोना वायरस पाजिटिव की संख्या पर ध्यान दिया जाए, तो शहर में 462 नए मामले मिले हैं. इनमें से 178 स्थानीय लोग संक्रमित हुए हैं. भुवनेश्वर ने 15 जुलाई से 20 जुलाई तक क्रमशः 90, 60, 124, 87, 52 और 49 लोग पाजिटिव पाये गये हैं.

भुवनेश्वर एम्स के पूर्व निदेशक डा एके महापात्र ने कहा कि हम स्थानीय कोविद रोगियों के संपर्क को पता लगाने में विफल रहे हैं. उन्होंने कहा कि अब हमारा उद्देश्य और सामुदायिक प्रसारण से कैसे बचा जाए, इस पर ध्यान केंद्रित करने की जरूरत है.

हालांकि भुवनेश्वर नगर निगम (बीएमसी) वायरस के विस्तार को रोकने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ रहा है. जागरूकता फैलाने के लिए मुहिम चला रखा है. स्लम क्षेत्रों में थर्मल स्कैनिंग करने के उद्देश्य से बीएमसी ने एक कोविद जागरूकता टीम बनाई है, जिसमें 1400 स्वयंसेवक शामिल हैं. इसी तरह सामुदायिक प्रसारण की संभावनाओं का पता लगाने के लिए बीएमसी ने शहर के 25 वार्डों में सीरोलॉजिकल सर्वे शुरू किया है. सर्वेक्षण में लगभग 5000 स्थानीय लोगों का परीक्षण किया जाएगा. यह दो चरणों में किया जा रहा है.

राज्य सरकार के कोविद-19 तकनीकी प्रवक्ता डा जयंत पंडा ने कहा कि प्राथमिक चरण में हमने सीरोलॉजिकल सर्वेक्षण किया है. इसमें 900 लोगों का परीक्षण किया गया. उनमें से 15 कोरोना वायरस से पाजिटिव पाये गये हैं. यह दो प्रतिशत से कम है. इसलिए भुवनेश्वर में कोई सामुदायिक प्रसारण नहीं है.

बीएमसी के अतिरिक्त आयुक्त सुरथ चंद्र मल्लिक ने कहा कि लाकडाउन के दौरान हम अत्यधिक कांटेन्मेंट क्षेत्र पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं. हमारा प्राथमिक ध्यान संपर्क में आने वाले मामलों पर है.

 

भुवनेश्वर में कोरोना के आंकड़े

कुल कोरोना पाजिटिव 2131

कुल स्वस्थ हुए 576

नये पाजिटिव 49

नये स्वस्थ हुए 53

कुल मृतकों की संख्या 11

अब तक सक्रिय मामले 642

 

About desk

Check Also

भाजपा ने अपना आंदोलन को स्थगित करने की घोषणा की

अब 2 से 4 फरवरी को होगा आंदोलन भुवनेश्वर। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email
Telegram