Sunday , January 29 2023
Breaking News
Home / Odisha / भुवनेश्वर में बुजुर्ग, गर्भवती महिलाओं और अस्वस्थ व्यक्तियों के लिए विशिष्ट रणनीति तैयार

भुवनेश्वर में बुजुर्ग, गर्भवती महिलाओं और अस्वस्थ व्यक्तियों के लिए विशिष्ट रणनीति तैयार

  • सचेतक एप्प डाउन लोड करने की सलाह

हेमन्त कुमार तिवारी, भुवनेश्वर

भुवनेश्वर नगर निगम (बीएमसी) ने कमजोर लोगों जैसे कि बुजुर्ग, गर्भवती महिलाओं और अस्वस्थ व्यक्तियों के लिए एक विशिष्ट रणनीति तैयार की है. भुवनेश्वर नगर निगम (बीएमसी) के आयुक्त प्रेम चंद्र चौधरी ने यहां गीत गोविंद सदन में एक प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि हमारा ध्यान कमजोर वर्ग के बुजुर्ग लोगों, गर्भवती महिलाओं और अवस्थ लोगों पर केंद्रित है.

चौधरी ने कहा कि बीएमसी शहर में ऐसे लोगों का एक सर्वेक्षण कर रही है. अब तक हमने लगभग 6,200 लोगों का सर्वेक्षण किया है. हम उनकी स्वास्थ्य स्थिति आदि का ब्यौरा एकत्र कर रहे हैं. हम उनसे हमारे द्वारा विकसित एक मोबाइल एप्प, सचेतक एप्प डाउनलोड करने के लिए कह रहे हैं. बीएमसी कमिश्नर ने आगे बताया कि 2,000 से अधिक लोगों ने इस एप्प को डाउनलोड किया है.

उन्होंने कहा कि सचेतक एप्प के माध्यम से उपयोगकर्ताओं को सरकारी दिशानिर्देशों पर अपडेट किया जा रहा है और इसके अलावा हमने छोटे वीडियो अपलोड किए हैं कि वे कैसे अपना ख्याल रख सकते हैं. इसके अतिरिक्त हम उनके लिए एक देखभालकर्ता की पहचान कर रहे हैं, जो उनके परिवार में एक युवा लड़का या लड़की हो सकती है.

चौधरी ने कहा कि हम इन कमजोर लोगों की गतिशीलता की जांच करते हैं और उनकी चिकित्सा और बैंकिंग आवश्यकताओं आदि में मदद करते हैं, ताकि इन कमजोर लोगों को बाहर जाने की जरूरत न हो. उन्होंने बताया कि सर्वेक्षण के निष्कर्षों के अनुसार, लगभग 5,000 परिवार हैं जहाँ वृद्ध लोग अकेले रह रहे हैं, उनके परिवार के अन्य सदस्य उनके साथ नहीं रह रहे हैं. उन्होंने कहा कि हम अपने परिवार के स्वयंसेवकों को ऐसे परिवारों के लिए टैग कर रहे हैं, ताकि वे उनकी समस्याओं का ध्यान रखें.

बीएमसी आयुक्त ने कहा कि असुरक्षित समय के अनन्य उपयोग के लिए सुबह 5 बजे से सुबह 7 बजे तक के लिए पार्क की समय-सीमा तय की गई है, इस अवधि के दौरान किसी अन्य व्यक्ति को पार्क में जाने की अनुमति नहीं है. इसके अलावा, बीएमसी ने इस कमजोर वर्ग के लिए अपने घरों पर बैंक से संबंधित सेवाएं प्रदान करने के लिए बैंक अधिकारियों के साथ पहले ही दो दौर की बातचीत की है. भुवनेश्वर में कोविड-19 के कारण अब तक हुई तीन मौतें सह-रुग्ण परिस्थितियों वाले बुजुर्ग थे. यह डेटा बहुत स्पष्ट है और बोलता है कि हमें इस वर्ग पर ध्यान देना चाहिए और उचित ध्यान देना चाहिए.

About desk

Check Also

ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नवकिशोर दास ने इलाज के दौरान दम तोड़ा

झारसुगुड़ा जिले के ब्रजराजनगर में एक एएसआई ने सीने में मारी थी गोली भुवनेश्वर में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email
Telegram