Tuesday , January 31 2023
Breaking News
Home / Odisha / पुरी में श्री जगन्नाथ मंदिर के सभी सेवायतों की होगी कोरोना जांच

पुरी में श्री जगन्नाथ मंदिर के सभी सेवायतों की होगी कोरोना जांच

  • बाहुड़ा यात्रा से पहले होगी सबकी जांच

  • परिवार के लिए जारी होगी गाइडलाइन

  • सुरक्षाकर्मियों और पुलिस अधिकारियों की भी होगी कोविद-19 जांच

प्रमोद कुमार प्रुष्टि, पुरी

रथयात्रा से पूर्व एक सेवायत के कोरोना पाजिटिव पाये जाने के मद्देनजर पुरी में श्रीमंदिर से जुड़े सभी पांच हजार सेवायतों की कोविद-19 जांच पुनः करायी जायेगी. यह कार्य बाहुड़ा यात्रा से पूर्व करा दिया जायेगा. यह जानकारी ओडिशा के विकास आयुक्त व श्रीमंदिर संचालन समिति के कार्यकारी अध्यक्ष सुरेश चंद्र महापात्र ने दी. उन्होंने बताया कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार श्रीमंदिर से जुड़े हर व्यक्ति की कोविद-19 जांच की जायेगी. साथ ही सेवायतों के परिवार के लिए गाइड लाइन जारी की जायेगी तथा सबको जागरूक किया जायेगा. उन्होंने बताया कि सिर्फ 12 घंटे में रथयात्रा का आयोजन पूरा कर लिया गया. इसके लिए उन्होंने सभी संबंधितों को धन्यवाद ज्ञापित किया.

इधर, श्रीमंदिर के प्रशासक किशन कुमार ने कहा कि कोविद-19 को लेकर सेवायतों के लिए घोषित सहायता राशि की तीसरी किश्त के पांच हजार रुपये देने की व्यवस्था हो रही है. उन्होंने शांतिपूर्ण और सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार रथयात्रा के आयोजन के लिए सभी सेवायतों, भक्तों और संबंधित हर व्यक्ति के प्रति आभार जताया. रथयात्रा के दौरान सेवायत के कोरोना पाजिटिव पाये जाने के बाद आज सर्किट हाउस में अधिकारियों की एक विशेष बैठक बुलाई गयी थी. इसमें ओडिशा के विकास आयुक्त व श्रीमंदिर संचालन समिति के कार्यकारी अध्यक्ष सुरेश चंद्र महापात्र, मुख्य प्रशासक किशन कुमार के साथ-साथ जिलाधिकारी बलवंत सिंह समेत कई अधिकारी और पदाधिकारी शामिल हुए.

इसी दौरान सभी सेवायतों की कोरोना जांच कराने का निर्णय लिया गया. इसके साथ यह भी निर्णय लिया गया है कि गुंडिचा मंदिर के सामने तीनों रथों के दक्षिण मुखी होने से पहले कोविद जांच संपन्न करा ली जायेगी. इस दौरान निगेटिव रिपोर्ट वाले ही सेवायतों को रथों को खिंचने की अनुमति प्रदान की जायेगी. इसके साथ रथों के पास ड्यूटी करने वाले सभी सुरक्षाकर्मियों और अधिकारियों की भी कोविद-19 जांच करायी जायेगी. कोरोना के विस्तार को रोकने के लिए राज्य सरकार से पांच हजार मास्क मंगाये गये हैं. उन्होंने बताया कि आइसोलेशन के लिए कई होटलों को किराए में लिया जाएगा.

इसके साथ करीब छह-सात हजार सेवार्थ पुलिस व अन्य संबंधित कर्मचारियों की कोरोना जांच की जायेगी. सेवायतों के इलाकों का सेनिटाइज किया जायेगा. जरूरत पड़ने पर रथयात्रा चलने वाले मुख्य रास्ते से संबंधित गलियों को भी सेनिटाइज किया जायेगा. कल छतीसा नियोग की बैठक होगी, जिसमें सभी नियोग को कहा जायेगा कि वे कोरोना जांच कराएं.

About desk

Check Also

भाजपा ने अपना आंदोलन को स्थगित करने की घोषणा की

अब 2 से 4 फरवरी को होगा आंदोलन भुवनेश्वर। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email
Telegram