Monday , January 30 2023
Breaking News
Home / Odisha / मारवाड़ी महिला समिति की बालेश्वर शाखा पांच दिनों की आनलाइन स्मार्टफोन कक्षा आयोजित

मारवाड़ी महिला समिति की बालेश्वर शाखा पांच दिनों की आनलाइन स्मार्टफोन कक्षा आयोजित

बालेश्वर. मारवाड़ी महिला समिति की बालेश्वर शाखा में पांच दिनों की आनलाइन स्मार्टफोन कक्षा आयोजित की गयी. अंतिम दिन पर एक प्रतियोगिता रखी गई, जिसमें 70 सदस्यों ने भाग लिया. इस प्रतियोगिता के फलस्वरूप तीन विजेता घोषित किए गए. बच्चों में से एक ने राज्य के मुख्यमंत्री की तारीफ करते हुए एक चित्र बनाया, जिसमें यह दर्शाया गया है कि उन्होंने ओडिशा को कोरोना, फनी आदि से किस तरह बचाया है. कोरोना काल में नेहल मोदी ने कोराना को भगाने के उपाय बड़े ही सुंदर तरीके से पियानों बजा कर एवं गाकर बताया है.

वर्ल्ड अस्थमा दिवस पर डॉ अनुपम मलिक जो कि सहारनपुर में रेस्पिरेट्री मेडिसिन के स्पेशलिस्ट है, उन्होंने वर्तमान कोविद-19 के समय में विडियो के माध्यम से अस्थमा बीमारी के लक्षण एवं उपाय अथवा अस्थमा मरीजों पर कोविद-19 के प्रभाव के बारे में बताया. छह मई को नरसिंह जयंती के अवसर पर बच्चों को वीडियो दिखाकर भक्त प्रह्लाद, हिरणकस्यप और नरसिंह अवतार की कथा मोबाइल पर दिखाकर उनके बारे में जानकारी दी गई. दीपक जलाकर बच्चों ने कथा सुनी और नरसिंह भगवान को नमन किया. बच्चों को हमारी संस्कृति से जोड़े रखने का एक प्रयास किया गया. सात मई को समिति की बहन रश्मि गुप्ता और उनके साथी सदस्यों ने एथलेटिक्स को लोकप्रिय बनाते हुए रोड रनिंग को बढ़ावा दिया. विश्व एथेलेटिक्स दिवस के अवसर पर समिति ने उनके इस महत्वपूर्ण योगदान के लिए जोरदार तालियों के साथ उनका अभिनंदन किया. शाखा में बच्चों ने मातृ दिवस के अवसर पर अपनी-अपनी माताओं के लिए बड़ी सुंदर कविताएं, पेंटिंग, आडियो एवं वीडियो बनाकर प्रस्तुत किया.

इसमें कुल 17 बच्चों ने अपनी कलाकारी दिखाई. सदस्य द्वारा बहनों से बात कर दिल्ली में एक पेशेंट को आप्रेशन हेतु ब्लड दिलाया गया. आठ मई को सिंगल यूज प्लास्टिक द्वारा पर्यावरण के ऊपर हानिकारक प्रभाव पर कुल 11 बहनों ने अपने ऑडियो भेजे. इस जागरूकता अभियान में सिंगल यूज़ प्लास्टिक का इस्तेमाल कम करना एवं उसे रीयूज करने के बारे में बताया गया. समिति की तरफ से एक वीडियो जारी की गयी, जिसमें वर्ल्ड रेडक्रॉस डे पर उनके सिद्धांतों, जन्म, सोसाइटी के कार्य, फर्स्ट एड प्रदाताओं, इसके लक्ष्य, फर्स्ट एड कीट तथा सामान्य गलतियों का विश्लेषण दिया गया. अपने लोगों के बीच जागरूकता फैलाने के लिए रक्तदान पर जोर देते हुए समझाया कि यह एक महादान है, मानव सेवा है जिससे कई लोगों के चेहरे पर मुस्कान आ सकती है, दूसरों को जीवन दान दे सकते हैं. यह एक उत्तम सेवा है, पुण्य है, जिसमें हर धर्म समान है.

१० मई को हमारी शाखा ने इस कोरोना महामारी से ग्रस्त समाज में लोगों को अपने घरों में पौधारोपण करने के लिए प्रोत्साहित किया. लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए पर्यावरण प्रमुख ने घर के बगीचे में बीजारोपण किया. सबने अपने घरों, बगीचों, फैक्ट्रियों तथा गौशाला में कुल १०१ आँवला के पौधे लगाए. समिति की एक सदस्य मीरा वाजपेई ने अपने बगीचे में एक मुखी रुद्राक्ष का पौधा भी लगाया. मातृ दिवस के अवसर पर समिति के सदस्यों ने अपनी मां समान सास के साथ गुणवत्ता समय बिताया. ११ मई को राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस के अवसर पर समय खंडेलवाल ने ऐतिहासिक पोखरण परमाणु परीक्षण एवं मिसाइलों के बारे में जानकारी दी. 12 मई को हर साल दुनियाभर में फ्लोरेंस नाईटेंगल के जन्म दिवस पर यह दिन मनाया जाता है.

अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस के अवसर पर समिति की तरफ से बालेश्वर अस्पताल के आईसीयू के नर्सों को सिंगल यूज प्लास्टिक को यूज़ किये बिना फूड पैकेट्स दिए गए वह भी पेपर हैंड मेड बैग में. 14 मई को बालेश्वर शाखा रेड ज़ोन में होने के कारण समिति ने कोरोना योद्धाओं के बीच ५०० मास्क वितरण किया. कोविद-19 के कारण समिति ने कुछ असहाय महिलाओं को कपड़े एवं सिलाई के लिए शुल्क दिए, ताकि वह कपड़े के मास्क बनाकर मुनाफा कमा कर अपनी जीविका चला सके. 15 मई को विश्व परिवार दिवस के अवसर पर समिति ने सभी सदस्यों और उनके परिवार जनों के साथ आनलाइन गेम्स खेला और खूब मस्ती की. केवट जयंती के अवसर पर समिति कि सदस्यों ने अपने बच्चों को श्री रामचन्द्रजी एवं केवट प्रसंग की जानकारी दी.

१८ मई को विश्व ऐड्स वैक्सीन दिवस मनाया. १९ मई को समिति की तरफ से सबको टेलीग्राम ऐप के बारे में बताया एवं सिखाया गया और टेलीग्राम जॉइन करने का आमंत्रण दिया गया एवं एक नया ग्रुप बनाया गया. २० मई को सदस्यों ने ८० महेश्वरी महिलाओं को स्मार्ट फोन यूज़ करना सिखाया. २२ मई को वट सावित्री अमावस्या के दौरान अपने घरों, मंदिरों एवं स्कूलों में कूल १४ वट वृक्ष लगाया, ताकि उनकी छांव सबको मिल सके एवं एंटी टेररिज्म डे पर एक विडियो के माध्यम से मानवीय शांति, एकता एवं देशभक्ति के द्वारा आतंकवाद और अहिंसा का डटकर विरोध करने का एक छोटा-सा प्रयास किया. समिति ने बच्चों से जय जवान जय किसान विषय पर विडियो, चित्रकला, नाटक आदि द्वारा रचनात्मक कला दिखलाई.

बच्चों को पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा, जिससे उनका हौसला बना रहे. २४ मई को शाखा ने लघु उद्योग को बढ़ावा देने के लिए मारवाड़ी संस्कृति मारवाड़ी खानों नामक एक टेलीग्राम ग्रुप बनाया जिसमें सभी सदस्यों को जुड़ने को कहा. इस ग्रुप में एक महीने तक लगातार सदस्यों द्वारा स्वादिष्ट व्यंजन, आचार, चटनी, मिठाई, नमकीन, चूर्ण, शर्बत इत्यादि शेयर की जायेगी ताकि वे आत्म निर्भर एवं सशक्त बन सके. ब्रदर्स डे पर बच्चों को भाई बहन के अनोखे एवं प्यार भरे रिस्तों को संभाल कर रखने के लिए जागरूक किया गया. २५ मई को राष्ट्रीय स्तर पर बाल विकास शिविर का आयोजन किया गया, जिसमें १८ बच्चों ने भाग लिया. बाल विकास शिविर के आयोजन हेतु शाखा से २ मास्टर ट्रेनर के रुप में प्रिया अग्रवाल और अल्का अग्रवाल के रूप में चुना गया है.

२६ मई को अंजु सरावगी ने स्वयं कि रक्षा पर काफी महत्वपूर्ण जानकारी दी जो बच्चों के लिये महत्वपूर्ण है. उन्होंने जिवन के बचाव के लिए चिली पेपर स्प्रे जैसे महत्वपूर्ण उपाय बताए. समिति ने यह निर्णय लिया की 100 स्प्रे कॉलेज एवं स्कूल के बच्चों में वितरण किया जाएगा. २७ मई को ज्वार के रस की उपयोगिता, रस को पीने के उपरांत उसके लाभ, ज्वार उगाने कि विधी एवं रस को ग्रहण करने के तरीकों से अवगत करवाया गया. विश्व पोषण दिवस के अवसर पर समिति की तरफ से शरीर में जैविक क्रियाओं, पोषक तत्वों (प्रोटीन, विटामिन, वसा आदि) और संतुलित आहार का महत्व एवं तुलसी, पुदीना, एलोवेरा आदि का सेवन करना तथा अपने शरीर को स्वस्थ रखने के लिए एक लेख के द्वारा जागरूकता फैलाने की कोशिश की गई.

२९ मई को समिति की कुछ सदस्यों ने जो खुद स्मार्ट फोन क्लास में सिखा था उसे अपने बड़ों को स्मार्ट फोन के अलग अलग विकल्पों को सिखाने की कोशिश की जिससे उनके चेहरों पर आत्मविश्वास से भरी मुस्कान छा गई. ओडिशा प्रांतीय निशुल्क पाँच दिवसीय बाल विकास शिक्षा संस्कार संस्कृति शिविर में बालेश्वर शाखा से कुल १८ बच्चों ने भाग लिया और समिति की दो सदस्यों ने इस शिविर के बच्चों की शिक्षिका का कार्यभार बखूबी निभाया. ३० मई को अध्यक्षा निशा मोदी द्वारा तीसरी बोर्ड मिटिंग ज़ूम ऐप में रखी गयी. शाखा ने कोविड-19 योद्धाओं के सम्मान में राज्य के मुख्यमंत्री के आग्रह पर वंदे उत्कल जननी के सामूहिक रुप से गान हेतु आयोजन किया जिसमें सभी सदस्या ने भाग लिया. ३१ मई को विश्व धूम्रपान निषेध दिवस पर समिति की कुछ सदस्यों ने तंबाकू एवं धूम्रपान से होने वाले दुष्प्रभाव का उजागर करने के लिए एक विडियो तैयार किया और इसे खत्म करने के लिए लोगों को जागरूक करने की कोशिश की. १ जून को समिति सदस्यों ने गंगा दशहरा के पावन पर्व पर उनकी विधि पूजन कर, महत्व जान गंगा नदियों एवं सभी जल स्तोत्र को अभिनंदन कर आभार व्यक्त किया, स्वच्छ रखने का प्रण लिया. पूजन सामग्री, पॉलिथीन, कूड़ा आदि ना डालने का संकल्प लिया.

About desk

Check Also

भाजपा ने अपना आंदोलन को स्थगित करने की घोषणा की

अब 2 से 4 फरवरी को होगा आंदोलन भुवनेश्वर। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email
Telegram