Saturday , February 4 2023
Breaking News
Home / Odisha / हादसों में तीन की मौत, 17 से अधिक लोग घायल

हादसों में तीन की मौत, 17 से अधिक लोग घायल

भुवनेश्वर. ओडिशा में अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में 17 से अधिक लोग घायल हो गए, जबकि एक प्रवासी मजदूर सहित तीन लोगों की मौत हो गई है. खबरों के मुताबिक, महाराष्ट्र के नवी मुंबई से पश्चिम बंगाल जा रही बस में सवार यात्रियों से भरी बस अनुगूल जिले में एनएच-44 पर हड़ंपा थानांर्गत लुहामुंडा के पास एक गैस टैंकर से टकरा गई. इससे एक व्यक्ति की मौत हो गई और 12 अन्य घायल हो गए. हादसे में टैंकर चालक की जान चली गई है. वहीं घायल व्यक्तियों को इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बस पश्चिम बंगाल के लगभग 24 निवासियों को वापस ला रही थी, जो इलाज के लिए मुंबई के टाटा मेमोरियल कैंसर अस्पताल गए थे. कोविद-19 लॉकडाउन के बाद से वे सभी वहीं फंसे हुए थे.
एक अन्य दुर्घटना बालेश्वर जिले में पणापाना के पास मंगलवार सुबह हुई, जिसमें एक ट्रक चालक की मौत हो गई. जानकारी के मुताबिक, दुर्घटनास्थल पर ट्रक और एक बस में आमने-सामने की टक्कर हुई, जिससे ट्रक चालक की मौके पर ही मौत हो गई. हादसे में गंभीर रूप से घायल हुए बस के चालक को बालेश्वर अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उसकी हालत गंभीर बतायी जा रही है. रिपोर्ट में कहा गया है कि निजी बस कोलकाता में प्रवासियों को छोड़ने के बाद भुवनेश्वर लौट रही थी.
इस बीच, बालेश्वर जिले के खंटपड़ा पुलिस सीमा के तहत उलियापटना के पास एक लोहे की प्लेट से भरे ट्रक पलटने से एक प्रवासी श्रमिक की मौत हो गई. टायर फटने के बाद ट्रक के चालक ने ट्रक पर संतुलन खो दिया, जिससे ट्रक पलट गया. हादसे में ड्राइवर भी घायल हो गया है और उसे इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल भेजा गया है.
इसी तरह मंगलवार को मयूरभंज जिले में राष्ट्रीय राजमार्ग-49 पर एक ट्रक और एक बाइक दुर्घटनाग्रस्त होकर दुरशुणी घाटी में गिर गई, जिसमें तीन लोगों को गंभीर चोटें आईं. दो घायल मोटर चालक जिले के बिसोई क्षेत्र के हैं, जबकि तीसरा घायल महाराष्ट्र के नासिक क्षेत्र का ट्रक चालक है. तीनों को इलाज के लिए बारिपदा अस्पताल में भेज दिया गया है. स्थानीय लोगों की सूचना पाकर पुलिस और दमकल कर्मी मौके पर पहुंचे और बचाव अभियान चलाया.
वहीं सोमवार की देर राद तमिलनाडु से प्रवासियों लेकर भद्रक जा रही एक बस कटक के टांगी थाना के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई, जिसमें 10 प्रवासी बुरी तरह से घायल हो गए हैं.

About desk

Check Also

झारसुगुड़ा अस्पताल की ईसीजी रिपोर्ट सार्वजनिक करने की मांग

इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है कि मृत व्यक्ति का आपरेशन किया गया – …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email
Telegram