Monday , January 30 2023
Breaking News
Home / Odisha / शाटडाउन हटने के बाद दुकानों पर भीड़ न लगायें लोग– मुख्य सचिव

शाटडाउन हटने के बाद दुकानों पर भीड़ न लगायें लोग– मुख्य सचिव

  •  भद्रक में शाटडाउन के उल्लंघन के कारण 17 लोगों को क्वारेंटाइन पर भेजा

भुवनेश्वर. राज्य सरकार द्वारा भुवनेश्वर, कटक व भद्रक शहर में शाटडाउन 48 घंटे के बाद जब यह हटेगा, तो लोग दुकानों पर भीड़ न लगायें. सभी अत्यावश्यक सामग्री पर्याप्त मात्रा में है और दुकानें भी खुली रहेंगी. ऐसे में लोग दुकानों पर भीड़ न लगायें. अन्यथा शाटडाउन से जो लाभ मिला है, वह खत्म हो जाएगा. राज्य के मुख्य सचिव असित त्रिपाठी ने पत्रकार सम्मेलन में यह बात कही. उन्होंने बताया कि प्रशासन द्वारा 48 घंटों के लिए जो शाटडाउन किया गया था वह सफल रहा है. लोगों ने इसे सफल बनाया है. लोग अपने घरों से नहीं निकले और इस कारण इसका उददेश्य पूरा हुआ है. उन्होंने कहा कि राज्य में किसी भी प्रकार की अत्यावश्यक सामग्री की किसी प्रकार की कमी नहीं है. इस कारण लोगों को भयभीत होने की कतई आवश्यकता नहीं है. इस बीमारी को रोकने का एकमात्र व सबसे प्रभावी कदम सामाजिक दूरी है. इस कारण शाटडाउन के बाद भी लोग इसे जारी रखें. शाटडाउन समाप्त होने के बाद आगामी 14 अप्रैल तक लाकडाउन जारी रहेगा तथा इसमें आवश्यक चीजों की दुकानें खुली रहेंगी. उन्होंने लोगों से अपील की कि लोग सोशल डिस्टांसिंग को माने अन्यथा प्रशासन को कठोर कार्रवाई करने के लिए मजबूर होने पड़ेगा. उन्होनें शाटडाउन को सफल बनाने के लिए पुलिस विभाग के कर्मचारियों को भी धन्यवाद दिया. उन्होंने सामुदायिक नेताओं से अपील की कि वे लोगों को सामाजिक दूरी बनाये रखने के लिए समझाएं.
भद्रक में शाटडाउन के दौरान बाहर निकले वाले 17 लोगों को सरकारी क्वारेंटाइन केन्द्र पर 14 दिनों के लिए भेज दिया गया. भद्रक के जिलाधिकारी ज्ञान दास ने यह जानकारी दी. उल्लेखनीय है कि इससे पहले ही प्रशासन ने स्पष्ट किया था कि शाटडाउन के उल्लंघन करनेवालों को क्वारेंटाइन केन्द्रों पर भेज दिया जाएगा.

भद्रक पहुंचकर पुलिस महानिदेशक ने लिया स्थिति का जायजा
भुवनेश्वर. राज्य सरकार द्वारा भद्रक शहर में 48 घंटे का शाटडाउन के दूसरे दिन राज्य पुलिस के महानिदेशक अभय ने भद्रक जाकर स्थिति का जायजा लिया. इसके साथ-साथ वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ बैठककर समीक्षा की. भद्रक पहुंचने के बाद पुलिस महानिदेशक अभय जिला पुलिस कार्यालय पहुंचे व पूर्वांचल आईजी तथा भद्रक के आरक्षी अधीक्षक के साथ स्थिति की समीक्षा की. इसके बाद वह भद्रक के डीआईबी कार्यालय पहुंच कर पुलिस नियंत्रण कक्ष को देखा. इसके बाद अभय भद्रक शहर के पुराना बाजार, चरम्पा समेत अनेक महत्वपूर्ण इलाकों का दौरा किया तथा पुलिस व्यवस्था के साथ साथ पाट्रोलिंग व्यवस्था को भी स्वयं देखा. भद्रक के शाटडाउन के लिए शहर में 15 प्लाटून फोर्स, 35 पुलिस अधिकारी 22 मजिस्ट्रेट, तीन प्लाटून ओएएसएफ के जवान विभिन्न स्थानों पर तैनात हैं.

About desk

Check Also

भाजपा ने अपना आंदोलन को स्थगित करने की घोषणा की

अब 2 से 4 फरवरी को होगा आंदोलन भुवनेश्वर। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email
Telegram