Thursday , December 2 2021
Breaking News
Home / Odisha / बुजुर्गों की सुरक्षा को लेकर नवीन ने पढ़ाया संस्कार का पाठ

बुजुर्गों की सुरक्षा को लेकर नवीन ने पढ़ाया संस्कार का पाठ

  •  घरों में ख्याल रखने के तौर-तरीके भी बताये

  •  राज्य में 60 साल के लोगों की संख्या 42 लाख है

भुवनेश्वर. कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर भय के वातारण, सतर्कता के वातारण और जागरुकता को लेकर हो रही चर्चे के बीच एक संस्कारी पहल भी शुरू करने की अपील राज्य सरकार ने की है. राज्य सरकार के सरकारी प्रवक्ता सुब्रत बाग्ची ने कहा कि मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने लोगों से अपील की है कि वे अपने घरों में बुजुर्गों का भी बड़ा ख्याल रखें. नवीन पटनायक ने आज राज्य की जनता को संस्कार का पाठ पढ़ाते हुए लोगों का ध्यान बुजुर्गों पर केंद्रित रखने के प्रति आकर्षित किया है. उन्होंने कहा कि अक्सर हमारे बुजुर्ग अपना समय पार्क में, मंदिर में, गांव में पेड़ों के नीचे, पींड पर अपने साथियों के साथ व्यतीत करते हैं. लेकिन राज्य में कोरोना के विस्तार को रोकने के लिए इनको भी ऐसे जगह पर जाने से रोकना होगा. उन्होंने कहा कि इनको शारीरिक चेतना के साथ-साथ मानसिक चेतना भी प्रदान करनी होगी. एक आंकड़े के अनुसार, राज्य में 60 साल के आयु वाले व्यक्तियों की संख्या लगभग 42 लाख है. 70 से 79 साल के आयु वाले व्यक्तियों का आंकड़ा राज्य की कुल आबादी का चार फीसदी है तथा 80 से ऊपर वालों की संख्या एक फीसदी है. इसलिए इनको भी बचाये रखना हमारा सबसे बड़ी जिम्मेदारी है. उन्होंने कहा कि आप इनको सामाजिक दूराव के साथ-साथ सदभावना और सम्मान के साथ घर में रखें. उनसे बातें करें और उनकी रूचि के अनुसार खाने-पीने की व्यवस्था भी करें. घरों में बुजुर्गों के साथ कोरोना वायरस को लेकर भी चर्चा करें, लेकिन ध्यान रखें कि भय की स्थिति उत्पन्न न हो. उन्होंने कहा कि बुजुर्गों को घरों में एक खुशमिजाज माहौल प्रदान करें. उनके पढ़ने के लिए ग्रंथ तथा किताबें प्रदान करें, उसके बारे में उनसे चर्चा करें. घर में बुजुर्गों को उनसे साथियों, परिवार के अन्य सदस्यों के साथ फोन पर बात कराएं. विडियो काल करायें, ताकि उनका मन लगा रहे. उन्होंने कहा कि ऐसा करने से घर के बुजुर्ग सदस्य का सामाजिक दूराव भी रहेगा तथा वे कोरोना वायरस से सुरक्षित भी रहेंगे.

About desk

Check Also

कंधमाल में माओवादियों ने लोगों से जंगल में नहीं जाने को कहा

 माओवादी पोस्टर मिलने दहशत, कहा-जगंलों में लगायी गयी बारूदी सुरंग फुलबाणी. कंधमाल जिले के कई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email
Telegram