Thursday , May 19 2022
Breaking News
Home / Odisha / यश मेहेता ने लिया यू टर्न, कहा मानसिक अशांति में कर गया भूल

यश मेहेता ने लिया यू टर्न, कहा मानसिक अशांति में कर गया भूल

  •  अपनी करनी के लिए मांगी माफी

  •  स्कूल प्रबंधन ने एसी फीस में 25 प्रतिशत कटौती का फैसला लिया

संबलपुर। बहुचर्चित सेंट जोसेफ स्कूल में उठा विवाद अब नए मोड़ पर पहुंच गया है। स्कूल प्रबंधन पर आरोप लगानेवाले अभिभावक यश मेहेता ने यू टर्न ले लिया है। अपनी इस हरकत के लिए उसने स्कूल प्रबंधन से माफी मांगा है। बीती शाम सेंट जोसेफ कान्वेंट स्कूल परिसर में बुलाए गए प्रेस कांफे्र्रंस में यश मेहेता पत्रकारों से रूबरू हुए। इस दौरान उन्होंने कहा कि शनिवार की सुबह उन्होंने अपना मानसिक संतुलन खो दिया है। जिसके बाद ही उन्होंने स्कूल परिसर में हंगामा मचाने के साथ-साथ आत्मदाह करने का प्रयास किया। उन्होंने कहा कि इस घटना के बाद उनका मन आत्मगलानी से भर गया है। वे इस घटना के लिए लज्जित महसूस कर रहें है। अपने इस गलती के लिए वे स्कूल प्रबंधन एवं शहर के लोगों से माफी मांगते हैुं। यहांपर बताते चलें कि शनिवार की सुबह यश मेहेता समेत स्कूल के अन्य कुछ अभिभावक स्कूल की प्रिंसीपल सिस्टर अंजना से मुलाकात करने स्कूल पहुंचे थे। उनका आरोप था कि स्कूल के एसी शुल्क को लेकर उनके बच्चे का वार्षिक परीक्षाफल रिपोर्ट प्रदान नहीं किया जा रहा है। जब घंटो बाद भी प्रिंसीपल ने उन्हें अपने चैंबर में नहीं बुलाया तो उन्होंने हंगामा मचाना आरंभ कर दिया। इस दौरान यश मेहेता तैश में आ गए और उन्होंने अपने शरीर में पेट्रोल छिडक़कर आग लगाने का प्रयास किया। किन्तु ऐनवक्त पर आसपास उपस्थित लोगों ने उन्हें ऐसा करने से रोक दिया। अंतत: धनुपाली पुलिस स्कूल पहुंची और यश को लेकर चली गई। वहांपर यश के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। उसी दिन रात को यश मेहेता ने भी स्कूल प्र्रबंधन के खिलाफ काउंटर मामला दर्ज करा दिया। अब श्री मेहेता का ह़दय परिवर्तन हो गया है। उन्होंने इस अपनी गलती बताते हुए स्कूल प्रबंधन एवं शहर के लोगों से माफी की मांग किया है। उनके इस बदले रवैए ने शहर में चर्चा का बाजार गर्म कर दिया है। शहर में चर्चा है कि रविवार को स्कूल प्रबंधन एवं यश मेहेता के बीच विशेष बैठक हुई। जिसके बाद से ही यश की प्रतिक्रिया में बदलाव आ गया है। इस बीच सेंट जोसेफ कान्वेंट स्कूल प्रबंधन ने एक अहम फैसला लेते हुए चलित वर्ष दसवीं एव बारहवी की परीक्षा दे रहे छात्रों का एसी फीस माफ कर दिया है। स्कूल की ओर से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि  फरवरी एवं मार्च महीने का एसी फीस आनेवाले शिक्षा वर्ष फी के साथ अटैच कर दिया है। विज्ञप्ति में कहा गया है कि वर्तमान सालाना 2400 रूपया एसी फीस निर्धारित है। जिसमें 25 प्रतिशत की कटौती कर उसे 1800 कर दिया गया है।

About desk

Check Also

पुरी में रथयात्रा और स्नान पूर्णिमा में भक्तों को शामिल होने की अनुमति

पुरी. पुरी में विश्वविख्यात महाप्रभु श्री जगन्नाथ की रथयात्रा और स्नान पूर्णिमा में इस साल …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

RSS
Follow by Email
Telegram