Thursday , October 6 2022
Breaking News
Home / Odisha / राज्य में मौसम ने बदली करवट, कहर बरपा

राज्य में मौसम ने बदली करवट, कहर बरपा

  •  कई जिलों में तूफान के साथ बारिश से जवजीवन बाधित

  •  ओले गिरे, सड़कों पर पेड़ गिरने से यातायात प्रभावित

  •  तापमान में अचानक आयी गिरावट से ठंड बढ़ी

  •  कई जिलों के लिए पीली चेतावनी जारी

भुवनेश्वर. उत्तर प्रदेश में बने चक्रवातीय संरचना के कारण राज्य में मौसम ने अचानक करवट बदल लिया है. इस कारण तूफान तथा ओले के साथ हुई बारिश ने राज्य के कई जिलों में कहर बरपाया है. कई जगहों पर पेड़ गिरने से यातायात बाधित हुई है. मौसम के बदलते मिजाज को देखते हुए कई जिलों के लिए पीली चेतावनी जारी की गयी है. जाजपुर, भद्रक, बालेश्वर, कटक, खुर्दा, नयागढ़, बौध, स्वर्णपुर, बलांगीर, संबलपुर, देवगढ़ और सुंदरगढ़ जिलों के लिए पीली चेतावनी जारी की गई है. इन जिलों में भारी बारिश की संभावना है. 26 फरवरी को कटक, जाजपुर, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा और पुरी जिलों में एक से दो स्थानों पर मध्यम से भारी वर्षा होने की संभावना जतायी गयी है. 27 फरवरी को राज्य के कुछ अलग स्थानों जैसे मयूरभंज, केंदुझर, कंधमाल और रायगड़ा में हल्की वर्षा होने की संभावना है. मौसम के बदलते मिजाज के कारण तापमान भी सामान्य से तीन से पांच डिग्री नीचे रहने की संभावना है. इससे ठंड ने फिर दस्तक दे दी है.

आज सुबह राजधानी भुवनेश्वर के कुछ इलाकों में तेज बारिश के साथ ओले भी गिरे हैं. इससे लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा. इसी तरह से बलांगीर, फुलबाणी समेत राज्य के भीतरी इलाकों में बारिश और तेज हवा के कारण जनजीवन प्रभावित हुआ है. सूत्रों ने बताया कि कई इलाकों में तेज हवा के कारण पेड़ रास्ते पर गिर पड़े हैं, जिससे यातायात सेवा प्रभावित हुई है. मौसम विभाग की एक रिपोर्ट के अनुसार,  स्वर्णपुर जिले में पिछले 24 घंटों में सबसे अधिक 57.8 मिमी बारिश हुई. बौध, बलांगीर और तालचेर में क्रमश: 45.2 मिमी, 30 मिमी और 14 मिमी बारिश हुई है. भुवनेश्वर के क्षेत्रीय मौसम केंद्र में ड्यूटी ऑफिसर अजय नायक ने बताया कि तूफान के हालात अस्थायी हैं. उम्मीद है कि 27 फरवरी के बाद मौसम की स्थित सामान्य हो जायेगी. अगले 24 घंटे तक भारी बारिश की संभावना है तथा उपरोक्त जिलों के लिए 24 घंटे तक पीली चेतावनी जारी की गई है. इसके अलावा मयूरभंज, केंदुझर, ढेंकानाल और बौध जिलों में 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से धूल भरी हवाओं के चलने की आशंका है तथा हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. फुलबाणी ने मिली जानकारी के मुताबिक, बारिश और तूफान के कारण जनजीनव काफी प्रभावित हुआ है. कंधमाल कलेक्टर और एसपी कार्यालयों के आसपास के इलाकों सहित फूलबाणी शहर में तूफान के कारण कई पेड़ उखड़ गए हैं, जिससे वाहनों की आवाजाही बाधित हो गई. तूफान के कारण बिजली के तार टूटने से विद्युत सेवा भी बाधित हुई है. हालांकि इस दौरान किसी की मौत या चोट लने की सूचना नहीं मिली है. बलांगीर में बिजली आपूर्ति बाधित हुई है. राहत कार्य तेजी से चल रहा है.

 

कुछ समय के लिए अंधेरा छाये रहा

राजधानी भुवनेश्वर में आज बदले मौसम के कारण सुबह नौ से साढ़े नौ बजे के बीच कुछ समय के लिए अंधेरा छाये रहा. हालांकि तेज हवा और बारिश के कारण यह अंधेरा छट भी गया. बारिश के साथ-साथ ओले भी गिरे.

About desk

Check Also

डेलांग में चाचा ने किया देशी बमों से हमला, भतीजे की मौत

पुरी। जिले के डेलांग प्रखंड के हरिराजपुर पंचायत के नैभंसार गांव में मंगलवार को देसी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

RSS
Follow by Email
Telegram