Wednesday , May 25 2022
Breaking News
Home / Odisha / मांगे नहीं मानी गई तो आंदोलन जोरदार होगा

मांगे नहीं मानी गई तो आंदोलन जोरदार होगा

  •  केन्दूपत्ता कर्मचारी संघ की चेतावनी

संबलपुर। मांगे नहीं मानी गई तो आगामी 2 एवं तीन मार्च को प्रदेश के 21 जिलों में आंदोलन जोरदार किया जाएगा। ओडिशा केन्दूपत्ता कर्मचारी संघ की ओर यह चेतावनी दी गई है। आंदोलन की रूपरेखा तैयार करने हेतु संघ के विशेष बैठक हुई। संघ के अध्यक्ष विजय महांति की अध्यक्षता में हुए इस बैठक में केन्दूपत्ता कर्मचारियों को श्रमिक कल्याण कोष से अलग किए जाने का विरोध किया गया। बैठक में बताया गया है कि पहले केन्दूपत्ता श्रमिक एवं कर्मचारियों को श्रमिक कल्याण कोष से आर्थिक सहायता मुहैया कराया जाता था। विडंबना का विषय यह है कि पिछले कुछ सालों से श्रमिकों को इस कोष से सहायता उपलब्ध नहीं कराया जा रहा है। इसके अलावा केन्दृपत्ता वाचरों का वेतन अबतक नहंीं बढ़ाया गया है। केन्दूपत्ता कर्मचारी संघ उपर्युक्त सभी मांगों के अलावा अन्य बुनियादी सुविधाओं की मांग करता है। उनकी मांगों पर जल्द से जल्द विचार नहीं किया गया तो आनेवाले दो एवं तीन मार्च को प्रदेश के सभी वन एवं रेंज कार्यालय के समक्ष धरना दिया जाएगा। इसके बावजूद बात नहीं बनी तो प्रदेश के 21 जिलों में रास्ता जाम किया जाएगा। बैठक में संघ के महासचिव योगेन्द्रनाथ त्रिपाठी, उपाध्यक्ष गोकुल मेहेर, सचिव संजीत महांति, मोहम्मद मुरतजा, कोकिल साहू, कीर्तन सेनापति, लक्ष्मीकांत प्रधान, खेत्रवासी  बारिक, उपेन्द्र सामल, मनोज साहू, एस के प्रधान एवं पदमचरण महंत समेत संघ के अनेकों पदाधिकारी एवं सदस्य शामिल हुए।

About desk

Check Also

कलिंग घाटी हादसे पर प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री ने जताया शोक

ब्रह्मपुर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने गंजाम जिले के कलिंग घाटी में …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

RSS
Follow by Email
Telegram