Tuesday , January 25 2022
Breaking News
Home / Odisha / मिलावटी सॉस गोदाम और कारखाना पर सीएमसी और पुलिस की छापेमारी

मिलावटी सॉस गोदाम और कारखाना पर सीएमसी और पुलिस की छापेमारी

  • भारी मात्रा में मिलावटी सॉस बरामद

कटक. कटक शहर मिलावटी सामानों का अड्डा बना हुआ है. कमिश्नरेट पुलिस और कटक नगर निगम की ओर से बार-बार छापेमारी करने के बावजूद यह सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. इसलिए डेढ़ साल के अंदर कटक शहर और इसके आसपास इलाकों से 25 से अधिक मिलावटी सामानों की कारखाना पर छापेमारी कर उसे सील किया जा चुका है. उसके बावजूद आए दिन नई नई कारखाना सामने नजर आ रहा है. जहां कुछ दिन पहले जगतपुर इलाके में मिलावटी सीमेंट कारखाना का पता चला था, वहीं गुरुवार को मालगोदाम में एक मिलावटी सॉस गोदाम का पता चला. इस सॉस को कटक 42 मौजा कलपड़ा इलाके में तैयार किया जाता था. सॉस तैयार करने के लिए सड़ा हुआ कर कद्दू, आलू और केमिकल रंग का इस्तेमाल किया जाता था. माल गोदाम में हुई छापेमारी के दौरान गोदाम से 50 पेटी टमाटर सॉस, 30 चिली सॉस,10 पेटी सोयाबीन सॉस, विनेगार आदि को बरामद की गई है. बरामद होने वाली सामानों की परीक्षा के लिए भुवनेश्वर में मौजूद परीक्षा केंद्र को भेजा गया है. वहां से रिपोर्ट आने के पश्चात कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी, यह स्पष्ट किया है कटक नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर सत्यब्रत महापात्र ने. मिलावटी यां नकली सामान बिक्री के आरोप में पुलिस कारखाना मालिक रंजीत प्रधान को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू किया है. वह मिलावटी सॉस को कहां-कहां बेच रहा था. इसमें और कौन-कौन शामिल है. इस संबंध में जानने के लिए जांच जारी है. माल गोदाम में बिक्री के लिए मौजूद सॉस गोदाम को भी सीएमसी और पुलिस की टीम ने सील कर दिया है. गोदाम में विभिन्न नामी ब्रांड के सॉस के साथ-साथ इन सब शस्ता और मिलावटी सॉस को भी बेचा जा रहा था. कारखाना मालिक के पास इसे तैयार करने के लिए फूड लाइसेंस भी ना होने की बात जांच से जान पाई है पुलिस और सीएमसी की टीम ने. आम तौर पर कारखाना में तैयार की जाने वाली इस सॉस को रास्ते के किनारे फास्ट फूड बेचने वाले दुकानी या और कुछ होटल मालिकों को बेचा जा रहा था. यह बात प्राथमिक जांच से पता चला है. मालगोदाम में मिलावटी सॉस बिक्री की जाने के बारे में पुलिस के पास आरोप आई थी. उसी आरोप के आधार पर सीएमसी और मालगोदाम थाना पुलिस की ओर से संयुक्त तौर पर यह छापेमारी की गई थी. माल गोदाम मैं इन मिलावटी सामानों को बेचने के लिए अच्छी सुविधा होने हेतु यहां पर मौजूद गोदाम पर सामान रखकर इसे बेचा जा रहा था. खास तौर पर शहर एवं गांव के दूरदराज इलाकों से आने वाले व्यापारियों को इसे बेचा जा रहा था. इस छापेमारी में कमिश्नरेट पुलिस के जोन-5 के एसीपी शुभ नारायण मुदुली, मालगोदाम थानाधिकारी तृप्ति रंजन नायक, कटक नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सत्यव्रत महापात्रा, खाद्य सुरक्षा अधिकारी प्रतीक्षा दास महापात्र और खाद्य निरीक्षक भगवान लेंका प्रमुख शामिल थे.

About desk

Check Also

भाजपा ने मनाई नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती

 देश की आजादी में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की योगदान को सराहा कटक. भाजपा के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email
Telegram