Thursday , October 21 2021
Breaking News
Home / Odisha / नक्सलियों के खिलाफ बुलंद होने लगी है आम लोगों की आवाज: नियमगिरी में लगे नक्सल विरोधी पोस्टर, इलाके में विकास में सहयोग करने को पोस्टर के जरिए आह्वान

नक्सलियों के खिलाफ बुलंद होने लगी है आम लोगों की आवाज: नियमगिरी में लगे नक्सल विरोधी पोस्टर, इलाके में विकास में सहयोग करने को पोस्टर के जरिए आह्वान

भुवनेश्वर -ओड़िशा के नक्सल प्रभावित जिलों में नक्सलियों के खिलाफ आम लोगों की भी आवाज उठने लगी है। नियमगिरी पहाड़ में सोमवार सुबह के समय नक्सल विरोधी पोस्टर देखने को मिला है। रायगड़ा जिला अन्तर्गत कल्याणसिंहपुर ब्लाक पारसाली के दो जगहों पर नक्सल विरोधी 5 पोस्टर लगा है। डंगरिया कंध विकास मंच के नाम से यह पोस्टर लगाया गया है। पोस्टर में उल्लेख किया गया है कि रास्ता काम का विरोध कर नक्सलियों ने जो गाड़ियों को जला दिया था डंगरिया कंध विकास मंच उसकी निंदा करता है।
इस पोस्टर में जिन बातों का उल्लेख किया गया है उसमें स्थानीय इलाके के विकास के लिए प्रयास करने वाले युवाओं को मृत्यु की धमकी देने कब बंद की जाएगी, रास्ता निर्माण में नियोजित गाड़ियों को जलाने को नक्सलियों को कौन कह रहा है, नियमगिरी सुरक्षा समिति इसे आखिर क्यों विरोध नहीं कर रही है तथा क्या नियमगिरी सुरक्षा समिति के नाम पर शोषण किया जा रहा है, लोगों ने पोस्टर के जरिए सवाल किया है। यह सब कब बंद होगा पोस्टर में जवाब मांगा गया है। पोस्टर के जरिए पिछड़े इलाके के विकास के लिए डंगरिया कंध विकास मंच का समर्थन करने के लिए भी अनुरोध किया गया है।
यहां उल्लेखनीय है कि सरकार की नीति एवं नक्सल संगठन को जड़ से खत्म करने के लिए प्रशासन की तरफ से लगातार किए जा रहे प्रयास के चलते नक्सलियों का गढ़ सिकुड़ते जा रहा है। हाल ही में मालकानगिरी में आक्रोशित ग्रामीणों ने एक इनामी नक्सली की पत्थर से कूटकर हत्या कर दी थी। खुद पुलिस डीजी अभय नक्सल प्रभावित इलाके का दौरा कर तमाम स्थिति का जायजा ले रहे हैं। ऐसे में अब एक बार नक्सल विरोधी पोस्टर लोगों द्वारा लगाए जाने के बाद प्रशासन को निश्चित रूप से नक्सल विरोधी अभियान में आगे चलकर और मदद मिलने की उम्मीद है।

About desk

Check Also

ममिता मेहेर हत्या मामला- मुख्यमंत्री दोषियों के खिलाफ कडी कार्रवाई करें – धर्मेन्द्र प्रधान

भुवनेश्वर. कलाहांडी जिले के महालिंग में स्कूल के शिक्षिका का अपहरण व हत्या मामले के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email
Telegram