Thursday , December 2 2021
Breaking News
Home / Odisha / विद्यार्थी परिषद का 44वां प्रदेश अधिवेशन शुरू

विद्यार्थी परिषद का 44वां प्रदेश अधिवेशन शुरू

  •  मैंने विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता के रुप में अनेक कुछ सिखा है- प्रो गणेशीलाल

    कटक. विश्व के सबसे बड़े छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के 44वें प्रदेश अधिवेशन के दूसरे दिन कटक में राज्यपाल प्रो गणेशीलाल मुख्य अतिथि के रुप में शामिल हुए. उन्होंने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता के रुप में उन्होंने अनेक कुछ सिखा है. उन्होंने कहा कि परिषद के कार्यकर्ता के रुप में उन्होंने सामाजिक काम, राष्ट्र सेवा आदि के बारे में काफी कुछ सीखा है. इस अवसर पर उन्होंने विद्यार्थियों से अपील की कि वे संगठित होकर राष्ट्र के पुननिर्माण में जुटें. उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को अन्य की खुशी में खुश होना चाहिए. उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को उद्धृत करते हुए कहा कि सावधानता, जागरुकता व दक्षता विद्यार्थी जीवन के मूल उपादान हैं.
    इस अवसर पर विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय संगठन मंत्री आशीष चौहान ने कहा कि समाज के प्रत्येक क्षेत्र में विद्यार्थिय़ों को नेतृत्व की आवश्यकता है. हमें केवल रिक्त स्थानों में अपने श्रेष्ठता का प्रदर्शन करना होगा. परिषद की 70 साल की यात्रा के दौरान इसके लाखों कार्यकर्ता समाजिक क्षेत्र, साहित्य, राजनीति तथा राष्ट्र गठन जैसे क्षेत्र में जाकर कार्य किया है.
    इस अवसर पर समाजसेवी तथा विद्यार्थी परिषद के पूर्व संगठन मंत्री कुमार कृष्णचंद्र राय को राज्यपाल प्रो गणेशीलाल ने सम्मानित किया. राय ने इस अवसर पर कहा कि आज के विद्यार्थियों को संत भीमभोई, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, स्वामी लक्ष्मणाननंद सरस्वती जैसे लोगों के त्यागपूर्ण जीवन से सीख लेनी चाहिए. कार्यक्रम में राज्य अधिवेशन के स्वागत समिति के अध्यक्ष सौरचंद् महापात्र, महासचिव विभु प्रसाद महापात्र, विद्यार्थी परिषद के प्रदेश अध्यक्ष अध्यापक भागिरथी पृष्टि, प्रदेश सचिव शशिकांत मिश्र, कटक महानगर अध्यक्ष अध्यापक अक्ष्य कुमार नायक, महानगर सचिव राक्षी नायक उपस्थित थे. दोपहर लके बाद कार्यकर्ताओं ने कटक के कालेज चौक से निकलकर स्थानीय किला मैदान तक रैली निकाला तथा वहां एक आम सभा में शामिल हुए.

About desk

Check Also

कंधमाल में माओवादियों ने लोगों से जंगल में नहीं जाने को कहा

 माओवादी पोस्टर मिलने दहशत, कहा-जगंलों में लगायी गयी बारूदी सुरंग फुलबाणी. कंधमाल जिले के कई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email
Telegram