Wednesday , September 28 2022
Breaking News
Home / Odisha / चार फरवरी से ठप कर दिया जाएगा काटामाटी लौह अयस्क परिवहन कार्य: डा. मुरली मनोहर शर्मा

चार फरवरी से ठप कर दिया जाएगा काटामाटी लौह अयस्क परिवहन कार्य: डा. मुरली मनोहर शर्मा


भुवनेश्वर. केन्दुझर जिले के जोड़ा ब्लाक के अधिन काटामाटी लौह खदान से लौह अयस्क परिवहन को आगामी 4 फरवरी से ठप कर दिए जाने की चेतावनी भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता डा. मुरली मनोहर शर्मा ने मंगलवार को यहां आयोजित एक पत्रकार सम्मेलन के जरिए दी है. डा शर्मा ने कहा कि परिवहन कार्य से प्रभावित स्थानीय मुर्गाबेड़ा, महादेवनसा, देउझर, ठाकुराणी तथा दालविरा गांव के लोगों ने इस संदर्भ में खदान के वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत करा दिया है. उक्त खदान से अधिक खदान संपदा उत्तोलन को लेकर 2016 में आयोजित ग्रामसभा में खदान प्रभावित लोगों के साथ कंपनी ने एक करार किया था, जिस पर पिछले चार साल से कोई कदम नहीं उठाया गया है. करार के मुताबिक, पहले दो साल में खदान से प्रभावित गांव के 30 लोगों को एवं बाद में 5 साल में 70 लोगों को मिलाकर कुल 100 लोगों को स्थाई नियुक्ति देने का आश्वासन दिया गया था, मगर अभी तक इस दिशा में कोई कदम नहीं उठाया गया है. इससे उक्त इलाके के लोगों में असंतोष का माहौल है. डा शर्मा ने कहा कि लोगों को नियुक्ति देना तो दूर की बात है, उक्त इलाके के विकास पर भी ध्यान नहीं दिया है. खदान उत्तोलन के कारण समग्र देउजर पंचायत के लोग प्रदूषण भरे माहौल में रहने को मजबूर हैं. वहीं शिक्षा, स्वास्त्य, आवागमन, पेयजल, बिजली जैसी जरूरी व्यवस्था तो बद से बदतर है. खदान प्रभावति इलाके के लोगों को स्थाई नियुक्ति के साथ स्थानीय इलाके के विकास के लिए स्थानीय इलाके के लोगों द्वारा बार बार मांग की जा रही है, मगर कंपनी के अधिकारी इस पर चुप्पी साधे हुए हैं. इसके प्रतिवाद में पिछले 23 दिसम्बर से खदान के मुख्य फाटक पर धरना भी दिया जा रहा है. शर्मा ने आरोप लगाया कि सरकारी दल के नेताओं तथा जिला प्रशासन के अधिकारी भी कंपनी से मिले हुए हैं, जिसके दम पर कंपनी इस तरह से मनमाना कार्य कर रही है. डा. शर्मा ने कहा है कि टीएसआरडीएस के जरिए बहुत अच्छा सेवा कार्य करने वाली टाटा कंपनी से ये उम्मीद नहीं की जा सकती है. हमें उम्मीद है कि कंपनी लोगों की मांग को समझेगी और उस पर विचार करेगी. उन्होंने कहा कि आगामी 3 फरवरी तक मांग पूरी नहीं हुई तो फिर आगामी 4 फरवरी से हम अपने आन्दोलन को जोरदार ढंग से करेंगे, खदान के परिवहन कार्य को पूरी तरह से ठप कर दिया जाएगा और इसके लिए कंपनी व प्रशासन जिम्मेदार होंगे. इस अवसर पर किशन मुंडा, राजू पात्र, प्रदीप पटनायक, युधिष्ठिर बेहेरा, ध्रुवराज हेम्ब्रम, कृष्ण गगरी, बिली पंडा, अलेख बारिक प्रमुख उपस्थित थे.

About desk

Check Also

कटक में एक चौक को अग्रसेन चौक नामित करने की मांग

मेयर सुभाष सिंह ने दिया हरसंभव पूरा करने का आश्वासन कटक। अग्रवाल सम्मेलन ओडिशा पूर्वी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

RSS
Follow by Email
Telegram