Wednesday , December 1 2021
Home / Odisha / महानदी कोलफील्‍ड्स लिमिटेड में राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति की बैठक सम्‍पन्‍न

महानदी कोलफील्‍ड्स लिमिटेड में राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति की बैठक सम्‍पन्‍न

संबलपुर. महानदी कोलफील्‍ड्स लिमिटेड मुख्‍यालय में राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति की 64वीं बैठक एमसीएल के केशव राव, निदेशक(कार्मिक), एमसीएल की अध्‍यक्षता में सम्‍पन्‍न हुई। कृष्‍ण देव प्रसाद, महाप्रबंधक (प्रबं.प्रशि.सं./राजभाषा), एमसीएल बैठक में उपस्थित रहे। अध्‍यक्ष महोदय ने एमसीएल में राजभाषा कार्यान्‍वयन की बेहतर स्थिति की सराहना की। उन्‍होंने कहा कि यहां के अधिकारियों एवं कर्मचारियों में भारत सरकार की राजभाषा नीति के प्रति काफी रूचि है एवं तन्‍मयता के साथ राजभाषा हिंदी के प्रचार-प्रसार में संलग्‍न हैं। हमें अपने कार्यालयीन कार्यों में राजभाषा हिंदी का अधिक से अधिक प्रयोग करना चाहिए, ताकि गृह मंत्रालय, भारत सरकार, राजभाषा विभाग द्वारा सौंपे गए राजभाषा कार्यान्‍वयन के संपूर्ण दायित्‍व का निर्वाह हो। कार्यालयों में नियमित रुप से बैठकें एवं कार्यशालाओं का आयोजन किया जाना चाहिए, इससे कार्यालय के कार्मिकों को राजभाषा कार्यान्‍वयन में आनेवाली कठिनाइयों को दूर करने में मदद मिलती है। कृष्‍ण देव प्रसाद, महाप्रबंधक(प्रबं.प्रशि.सं./राजभाषा), एमसीएल ने अध्‍यक्ष महोदय तथा समस्‍त प्रतिभागियों का स्‍वागत किया। आगे उन्‍होंने कहा कि मुख्‍यालय एवं क्षेत्रीय अधिकारियों/ कर्मचारियों के सक्रिय सहयोग से ही राजभाषा नीति के शत-प्रतिशत लक्ष्‍यों की प्राप्ति संभव है। बैठक में मुख्‍यालय के महाप्रबंधकगण, क्षेत्रों के क्षेत्रीय कार्मिक प्रबंधक/राजभाषा अधिकारी एवं मुख्‍यालय के सभी राजभाषा अधिकारी/ सहायकगण उपस्थित हुए। बीआर साहू कलिहारी, उप प्रबंधक(सचिवीय/राजभाषा), राजभाषा विभाग ने गत बैठक के निर्णयों पर कृत कार्रवाई रिपोर्ट की पुष्टि की। इसके साथ ही पावर प्‍वाइंट प्रजेन्‍टेशन के माध्‍यम से सितंबर एवं दिसंबर, 2019 तिमाही रिपोर्टों का तुलनात्‍मक विवरण प्रस्‍तुत कर उसकी समीक्षा की गई। तूलिका विश्‍वास, सहायक प्रबंधक(राजभाषा), राजभाषा विभाग, मुख्‍यालय द्वारा बैठक का सफल संचालन किया गया। बीआरसाहू कलिहारी, उप प्रबंधक(सचिवीय/राजभाषा) द्वारा अतिथियों एवं प्रतिभागियों के प्रति आभार व्‍यक्‍त किया गया। बैठक के सफल संचालन एवं व्‍यवस्‍था में राजभाषा विभाग की पूरी टीम का सहयोग रहा।

About desk

Check Also

एनजीएमए और कीस-कीट में करार

 आदिवासी आर्ट, क्राफ्ट तथा संस्कृति आदि को मिलेगा संरक्षण और प्रोत्साहन भुवनेश्वर. नई दिल्ली में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email
Telegram