Thursday , October 21 2021
Breaking News
Home / Odisha / सीएमएस की तरह हो सकता है यूपीएमएस का चुनाव

सीएमएस की तरह हो सकता है यूपीएमएस का चुनाव

  •  नथमल चनानी उर्फ मामाजी ने अध्यक्ष बनने की पेशकश को ठुकराया

  •  इलेक्शन या सेलेक्शन पर लोगों में हो रहा है मंथन

  •  चार से पांच लोग हो सकते हैं दावेदार

शैलेश कुमार वर्मा, कटक
कटक मारवाड़ी समाज की तर्ज पर उत्कल प्रादेशिक मारवाड़ी सम्मेलन (यूपीएमएस) कटक शाखा का भी चुनाव हो सकता है. सूत्रों ने बताया कि नथमल चनानी उर्फ मामाजी को अध्यक्ष बनाने के लिए पेशकश की गई थी, लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया. इससे चुनाव के आसार प्रवल हो गया है. कटक मारवाड़ी समाज के चुनाव की जीत की चर्चा अभी खत्म भी नहीं हुई है और ना ही अभी तक शपथ समारोह हुआ है, इसबीच उत्कल प्रादेशिक मारवाड़ी सम्मेलन का चुनाव सत्र (2020- 22) को लेकर लोगों में चर्चा जोरों पर हो रही है. अभी कुछ दिन पहले ही उत्कल प्रादेशिक मारवाड़ी सम्मेलन की पांचवीं कार्यकारिणी की बैठक हुई थी, जिसमें चुनाव समिति का भी गठन किया गया और चुनाव 22 मार्च, रविवार को कराने का निर्णय लिया गया. इस बैठक में संस्थापक चेयरमैन सूर्यकांत सांगानेरिया ने चुनाव न कराकर सर्वसम्मति से अध्यक्ष के लिए पुनः सुरेश कमानी का नाम का प्रस्ताव रखा. इस प्रस्ताव पर वहां पर बैठे लोगों ने क्षणिक देर के लिए तो मुहर लगा दी, लेकिन इधर कुछ दिनों से चुनाव प्रक्रिया को लेकर कटक शहर में चर्चा जोरों पर हो रही है. लोगों से यह भी सुना जा रहा है कि उत्कल प्रादेशिक मारवाड़ी सम्मेलन का चुनाव भी कहीं कटक मारवाड़ी समाज के चुनाव के तरह रोमांचकता भरी तो नहीं होगा. उत्कल प्रादेशिक मारवाड़ी सम्मेलन के चुनाव को लेकर सूत्रों से खबर मिली कि एजीएम में पूरे जोरशोर से चुनाव कराने को लेकर प्रस्ताव पारित किया जाएगा और अभी से ही कुछ उम्मीदवार अपने-अपने क्षेत्रों में प्रचार-प्रसार भी शुरू कर दिए हैं. हालांकि 6 महीना पहले से चर्चा यह थी कि इस बार सर्वसम्मति से उत्कल प्रादेशिक मारवाड़ी सम्मेलन के वरिष्ठ सदस्य एवं नंदगांव वृद्ध गौ सेवा आश्रम के सचिव पदम कुमार भावसिंहका को उत्कल प्रादेशिक मारवाड़ी सम्मेलन का अध्यक्ष बनाया जाएगा, जो बहुत दिनों तक चर्चा के केंद्र में रही, लेकिन कार्यकारिणी की बैठक में जब संस्थापक चेयरमैन ने सुरेश कमानी के नाम का प्रस्ताव रखा, तो वहां पर बैठे लोगों ने अपनी हां कर दी, लेकिन अगले दिन से यह चर्चा शुरू हो गई कि चुनाव प्रक्रिया की तरह ही पूरी कार्य विधि की जाएगी और चर्चा यह भी है कि अगर सर्वसम्मति से ही चुनना था तो चुनाव समिति का गठन क्यों किया गया. यह एक प्रश्न लोगों के दिमाग में घूम रहा है. कुछ लोगों ने नाम ना छापने की शर्त पर कहा कि सूर्यकांत सांगानेरिया अपनी मनमानी करना चाहते हैं, जिसे हमलोग चलने नहीं देंगे. सूत्रों के हवाले से भी खबर मिला कि कटक मारवाड़ी समाज के चुनाव में खड़े नथमल चनानी उर्फ मामाजी के पास सुरेश कमानी एवं सूर्यकांत सांगनेरिया ने उत्कल प्रादेशिक मारवाड़ी सम्मेलन में अध्यक्ष बनने के लिए प्रस्ताव दिया था, जिनको नथमल चनानी ने ठुकरा दिया और सुनने में आया कि वह ऐसे ही समाजसेवा करते रहेंगे, जैसे पहले करते रहे हैं. इधर, उत्कल प्रादेशिक मारवाड़ी सम्मेलन के कुछ वरिष्ठ सदस्यों का कहना है कि चुनावी प्रक्रिया से ही अध्यक्ष का चुनाव होगा और प्रयास यह किया जाएगा की शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव हो. हालांकि इस बार की कार्यकारिणी की बैठक में चुनाव में खड़ा होने के लिए 10,000 की जमानत राशि भी रखी गई है. लोगों का कहना है कि कटक मारवाड़ी समाज की नकल उत्कल प्रादेशिक मारवाड़ी सम्मेलन कर रही है. खैर जो भी हो जिस तरह से चुनाव प्रक्रिया को लेकर शहर में चर्चा हो रही है, लग रहा है चुनाव पूरा ही रोमांचक होगा और कम से कम चार पांच उम्मीदवार अध्यक्ष पद के लिए खड़ा हो सकते हैं.

About desk

Check Also

ममिता मेहेर हत्या मामला- मुख्यमंत्री दोषियों के खिलाफ कडी कार्रवाई करें – धर्मेन्द्र प्रधान

भुवनेश्वर. कलाहांडी जिले के महालिंग में स्कूल के शिक्षिका का अपहरण व हत्या मामले के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email
Telegram