Wednesday , November 30 2022
Breaking News
Home / Odisha / डीजल, पेट्रोल और दैनिक आवश्यकताओं की कीमतों में बढ़ोतरी के विरोध में कटक बंद

डीजल, पेट्रोल और दैनिक आवश्यकताओं की कीमतों में बढ़ोतरी के विरोध में कटक बंद

शैलेश कुमार वर्मा, कटक

राज्य में लगातार पेट्रोल, डीजल एवं आवश्यक समानो की बढ़ती कीमतों को देखते हुए गुरुवार को कटक बंद रहा. हालांकि कटक में बंद का असर बहुत कम देखने को मिला. राज्य में छह वामपंथी दलों, सीपीआई, सीपीआई (एम), सीपीआई (एमएल) लिबरेशन और फॉरवर्ड ब्लॉक, डीजल, पेट्रोल और दैनिक आवश्यकताओं की आसमान छूती कीमतों के खिलाफ में गुरुवार को कटक में विरोध प्रदर्शन किया. खपुरिया में माकपा कटक नगर समिति के सचिव प्रताप महापात्र की अध्यक्षता में विरोध रैली निकाली गयी. वक्ताओं ने कहा कि डीजल और पेट्रोल पर करों में वृद्धि से 100 रुपये प्रति लीटर से अधिक हो गया है. इसका सीधा असर माल ढुलाई और यात्री परिवहन पर पड़ रहा है. कोरोना महामारी की वजह से आम लोगों का जीवन और रोजी-रोटी खतरे में है. तेल की कीमतों में वृद्धि ने आवश्यक वस्तुओं की सूची से 23 दैनिक आवश्यकताओं को हटा दिया है, जिसके परिणामस्वरूप सभी खराब होने वाली वस्तुओं जैसे खाद्य तेल, दाल, आलू, प्याज, चीनी और दवाओं की कीमतें आसमान छू रही हैं. 2014-15 में नरेंद्र मोदी की भाजपा सरकार ने डीजल और पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क में 8,157 करोड़ रुपये एकत्र किया, जबकि अप्रैल-जनवरी 2021 में उत्पाद शुल्क में 2,65,000 करोड़ रुपये एकत्र किया. राज्य सरकार पेट्रोल पर 32 प्रतिशत और डीजल पर 28 प्रतिशत कर लगाती है. डीजल और पेट्रोल की कीमतों में वृद्धि, जो केंद्र और राज्य करों से दोगुनी है, बढ़ रही है. इसके अलावा, एक वर्ष में खाद्य कीमतों में 40 से 80 प्रतिशत की वृद्धि हुई है. अवैध स्टॉक और काला बाजार फैल गया है. उन्होंने मांग की कि चावल, गेहूं, खाद्य तेल, दालें, चीनी, चाय, आदि मुफ्त उपलब्ध कराए जाएं और सभी गैर-आयकरदाताओं को छह महीने के लिए 4,500 रुपये प्रति माह का भुगतान किया जाए. सीपीआई (एम) के जिला सचिव अमरेंदु मोहंती, सीपीआई (एम) कटक जिला समिति के सदस्य मधुसूदन पति, अभय साई, सुभाष चंद्र बेज, आईएनजी मनमोहन पति सहित अन्य ने अपनी बातें रखीं. श्री ऋत्विक मोहंती, भंज किशोर बेहरा, नवघन परिडा, राम प्रसाद गदाती, बुली साहू, चंद्रकांत बेहरा, गोपाल राउत, तपन साहू, अशोक साई, सुबल जेना, पूर्ण चंद्र साहू, मिलन सिंह, मनोज राउत, पूर्ण चंद्र भोल, घनश्याम राउत, धाम राणा ने मुख्य आंदोलन का नेतृत्व किया.

About desk

Check Also

बालेश्वर में जैन मुनियों का भव्य स्वागत

संतों का स्वागत त्याग, संयम व सदाचार का स्वागत है- मुनि जिनेश कुमार बालेश्वर। आचार्य …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email
Telegram